पाकिस्तान की एक और चाल, बनाया Arogya Setu App, निशाने पर भारतीय यूजर्स का डेटा

पाकिस्तान की एक और चाल, बनाया Arogya Setu App, निशाने पर भारतीय यूजर्स का डेटा
भारत सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए आरोग्य सेतु ऐप (Arogya Setu) लॉन्च किया था, जिसे भारत में काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला.

केंद्र सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए आरोग्य सेतु ऐप (Arogya Setu) को डाउनलोड करना अनिवार्य किया है. बताया जा रहा है कि इसी का फायदा उठाकर पाकिस्तानी हैकर्स ने भारत की जासूसी करने के मंसूबे से फेक आरोग्य सेतु ऐप तैयार किया है.

  • Share this:
(संदीप बोल/विवेक गुप्ता की रिपोर्ट)

नई दिल्ली. एक तरफ भारत समेत दुनिया के तमाम देश जानलेवा कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ रहे हैं. दूसरी ओर पाकिस्तान (Pakistan) इस कोरोना संकट में भी भारत की जासूसी करने से बाज़ नहीं आ रहा है. पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI ने भारतीयों की जासूसी के लिए फेक आरोग्य सेतु ऐप (Fake Arogya Setu App) बनाया है. इस ऐप को अप्रैल 2020 में डिवेलप किया गया था. अब इस फर्जी ऐप का नया वर्जन लॉन्च किया गया है.

ISI की मदद से हैकर्स इस ऐप को भारतीय ब्यूरोक्रेसी और डिफेंस से जुड़े संस्थानों तक पहुंचाने की फिराक में लगे हैं. इसके अलावा आम भारतीय नागरिकों को भी पाकिस्तानी हैकर्स द्वारा इस ऐप के जरिए निशाना बनाया जा रहा है. फर्जी आरोग्य सेतु ऐप बिल्कुल असली ऐप जैसा ही दिखता है और काम करता है.



जो भी इस फर्जी ऐप को डाउनलोड करता है, उसके फोन की सारी जानकारी पाकिस्तान के हैकर्स को मिल जाती है. फोन डिटेल से लेकर लोकेशन तक की जानकारी लीक हो जाती है. फिलहाल, महाराष्ट्र साइबर सेल इस मामले में जांच कर रही है.
बता दें कि भारत सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए आरोग्य सेतु ऐप (Arogya Setu) लॉन्च किया था, जिसे भारत में काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला. देश में करोड़ों की संख्या में लोग इस ऐप का इस्तेमाल करते हैं.

केंद्र सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए इस ऐप को डाउनलोड करना अनिवार्य किया है. बताया जा रहा है कि इसी का फायदा उठाकर पाकिस्तानी हैकर्स ने भारत की जासूसी करने के मंसूबे से फेक आरोग्य सेतु ऐप तैयार किया है.

CNN News18 की रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र साइबर डिपार्टमेंट के IG यशस्वी यादव ने कहा, 'महाराष्ट्र साइबर डिपार्टमेंट को बहुत खतरनाक मैलेवयर के बारे में पता चला है, जिससे हमारे देश का संवेदनशील डेटा चुराया जा सकता है. कुछ पाकिस्तानी हैकर्स ने फेक आरोग्य सेतु ऐप बनाया है, जिससे वे ब्यूरोक्रेटस और डिफेंस से जुड़े अधिकारियों के फोन से सूचनाएं पा सकें.'

ये भी पढ़ें:- 

CORONA: दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री के 'फॉर्मूले' से इन मरीजों को रहना होगा सावधान, घर में रहते हुए ऐसे जान सकते हैं रेस्पिरेटरी रेट

भारत में कोरोना वायरस की स्थिति गंभीर, दोबारा लग सकता है लॉकडाउन- स्टडी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज