PAK ने फिर भारत को दी गीदड़भभकी, कहा- ईंट का जवाब पत्थर से देंगे

News18Hindi
Updated: September 1, 2019, 8:50 PM IST
PAK ने फिर भारत को दी गीदड़भभकी, कहा- ईंट का जवाब पत्थर से देंगे
पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारत को दी धमकी. (फाइल फोटो)

पाकिस्तान (Pakistan) के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) ने कहा कि जब प्रधानमंत्री इमरान खान 27 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations General Assembly) की वार्षिक बैठक में कश्मीर (Kashmir) के मामले को सामने रखेंगे तो दुनिया देखेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 1, 2019, 8:50 PM IST
  • Share this:
पाकिस्तान (Pakistan) के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mahmood Qureshi) ने कहा है कि समूचा पाकिस्तान एकजुट है और देश के स्थायित्व एवं संप्रभुता (Sovereignty) की रक्षा कर सकता है. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि भारत ने यूरोपीय संघ (European Union) को दो सितंबर को कश्मीर मुद्दे पर चर्चा करने के पाकिस्तान के अनुरोध को मानने से रोकने की व्यर्थ कोशिश की.

भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के विशेष राज्य के दर्जे को समाप्त करने के लिए संविधान के अधिकतर प्रावधानों को निरस्त करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया.

भारत ने दृढ़तापूर्वक कहा है कि अनुच्छेद 370 (Article 370) के अधिकतर प्रावधानों को निरस्त करना उसका अंदरूनी विषय है और उसके अंदरूनी मुद्दों पर गैर-जिम्मेदाराना बयान देने और भारत विरोधी भावनाएं भड़काने को लेकर उसने पाकिस्तान की कड़ी आलोचना की.

UN में उठाएंगे कश्मीर मुद्दा

कुरैशी ने कहा कि जब प्रधानमंत्री इमरान खान 27 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations General Assembly) की वार्षिक बैठक में कश्मीर के मामले को सामने रखेंगे तो दुनिया देखेगी. उन्होंने मीडिया की इस खबर का भी खंडन किया कि पाकिस्तान भारत के साथ बातचीत करने का प्रयास कर रहा है. उन्होंने कहा, "बिल्कुल नहीं.'

ईंट का जवाब पत्थर से देंगे
पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा कि ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा. 'डॉन' अखबार ने कुरैशी के हवाले से खबर दी है, 'भारतीय सीमा के समीप खड़ा होकर मैं हिंदू समुदाय के साथ मोदी सरकार को चेतावनी देता हूं कि पूरा देश एकजुट है और वह देश के स्थायित्व एवं संप्रभुता की रक्षा कर सकता है.'
Loading...

युद्ध नहीं है विकल्प
बता दें कि शाह महमूद कुरैशी इससे पहले कह चुके हैं कि कश्मीर मुद्दा सुलझाने के लिए युद्ध कोई विकल्प नहीं है. शनिवार को प्रकाशित बीबीसी उर्दू के साथ एक साक्षात्कार में कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान ने कभी आक्रामक नीति नहीं अपनाई और हमेशा शांति को तरजीह दी. पाकिस्तान की वर्तमान सरकार ने बार-बार भारत को बातचीत शुरू करने की पेशकश की है क्योंकि दोनों परमाणु हथियार संपन्न देश जंग में जाने का जोखिम नहीं उठा सकते हैं.

(भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें: पाक ने मालदीव में उठाया कश्मीर का मुद्दा, मिला करारा जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 1, 2019, 8:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...