लाइव टीवी

पाकिस्तान से आई अच्छी खबर, मंदिर को बचाने के लिए मुस्लिमों ने वहीं बिताई रात

News18Hindi
Updated: September 17, 2019, 10:06 PM IST
पाकिस्तान से आई अच्छी खबर, मंदिर को बचाने के लिए मुस्लिमों ने वहीं बिताई रात
पाकिस्तान के घोटकी में एक दिन पहले ही हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ की खबर सामने आई थी. इस घटना के एक ही दिन बाद पाकिस्तान से एक अच्छी तस्वीर सामने आई है.

पाकिस्तान (Pakistan) के घोटकी (Ghotki) में एक दिन पहले ही हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ की खबर सामने आई थी. इस घटना के एक ही दिन बाद पाकिस्तान से एक अच्छी तस्वीर सामने आई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 17, 2019, 10:06 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) के सिंध प्रांत के घोटकी (Ghotki) में एक दिन पहले ही हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ की खबर सामने आई थी. पाकिस्तान के सिंध (Sindh) प्रांत के घोटकी जिले में एक प्रिंसिपल पर ईशनिंदा का मामला दर्ज होने के बाद वहां के लोगों ने हिंदू मंदिर और अन्य इमारतों को निशाना बनाकर वहां हमला किया था. इस घटना के एक ही दिन बाद पाकिस्तान से एक अच्छी तस्वीर सामने आई है. सिंध प्रांत के घोटकी के लोग अब खुलकर हिंदू समुदाय का समर्थन कर रहे हैं.

मुस्लिमों ने मंदिर में बिताई रात
सूत्रों के मुताबिक घोटकी में जिस मंदिर को तोड़ा गया उस मंदिर को दोबारा भीड़ के हमले से बचाने के लिए मुस्लिमों ने वहां रात बिताई. खबर के मुताबिक तोड़ गए हिंदू मंदिर में मुस्लिम समुदाय के लोग आकर दुख जता रहे हैं. वहां के लोग मंदिर तोड़ने वालों से जरा भी इत्तेफाक नहीं रखते. उनका कहना है कि मंदिर तोड़ने वाले अतिवादी मानसिकता के हैं हिंदू लोग जिनका शिकार बन गए हैं.



आपको बता दें पाकिस्तान के सिंध प्रांत के एक स्कूल में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के प्रिंसिपल के खिलाफ कथित तौर पर ईशनिंदा का मामला दर्ज होने के बाद रविवार को प्रांत के कई इलाकों में दंगे भड़क गये.

एक छात्र के पिता अब्दुल अजीज राजपूत की शिकायत पर सिंध पब्लिक स्कूल के प्रिंसिपल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी. राजपूत का दावा है कि शिक्षक ने इस्लाम के पैगंबर के खिलाफ कथित अपमानजनक टिप्पणी कर कथित तौर पर ईशनिंदा की थी.

घोटकी में हुए काफी प्रदर्शन
Loading...

स्कूल के प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद घोटकी जिले में काफी प्रदर्शन हुए. प्रदर्शनकारियों ने प्रिंसिपल नोतन मल की गिरफ्तारी की मांग की. इसके बाद अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक जमील अहमद ने कहा कि पुलिस ने आरोपी को सुरक्षा के लिए हिरासत में ले लिया है. उन्होंने एक ट्वीट किया कि कथित आरोपी प्रधानाचार्य अब पुलिस की हिरासत में सुरक्षित है.

पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग ने प्रदर्शनकारियों द्वारा स्कूल में तोड़फोड़ किये जाने से संबंधित एक वीडियो साझा करते हुए स्थिति पर गंभीर चिंता जताई है.

ये भी पढ़ें-
जानिए क्यों पाकिस्तानी स्कूलों में हिंदुओं को जबरन पढ़ाई जाती है कुरान

पाकिस्तान में हिंदू लड़की की हत्या, फिर जबरन धर्म परिवर्तन की कोशिश?

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 17, 2019, 9:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...