गूगल, फेसबुक और ट्विटर ने दी इमरान खान को चेतावनी- कानून में नहीं हुआ बदलाव तो समेट लेंगे कारोबार

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (फ़ाइल फोटो)
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (फ़ाइल फोटो)

पाकिस्तान (Pakistan) के अखबार डॉन के मुताबिक आईटी मंत्रालय द्वारा बुधवार को घोषित नए नियमों के तहत सोशल मीडिया कंपनियों और इंटरनेट सेवा देने वाली कंपनियों को हर वो जानकारी देनी होगी, जो जांच एजेंसियां मांगेंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 21, 2020, 1:18 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. नए डिजिटल कानून के आने से पाकिस्तान (Pakistan) में बवाल मच गया है. इंटरनेट और टेक्नोलॉजी की बड़ी कंपनियों ने पाकिस्तान को धमकी दी है कि अगर इस कानून में बदलाव नहीं किया जाता है तो फिर उन्हें पाकिस्तान से अपना कारोबार समेटने के लिए मजबूर होना पड़ेगा. इसमें गूगल, फेसबुक और ट्विटर जैसी बड़ी कंपनिया शामिल हैं. बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने बुधवार को ऐलान किया कि अब उनके यहां इंटरनेट के कंटेंट पर सेंशरशिप लाई जाएगी. नियमों को तोड़ने वाली कंपनी के खिलाफ जुर्माना लगाया जाएगा.

ये कानून चिंताजनक
सरकारी नीतियों के मामले में वैश्विक इंटरनेट कंपनियों का प्रतिनिधित्व करने वाले संगठन एशिया इंटरनेट गठबंधन ने एक बयान में कहा कि इंटरनेट कंपनियों को निशाना बनाने वाले नये कानून चिंताजनक हैं. बता दें कि गूगल, फेसबुक और ट्विटर भी इस गठबंधन का हिस्सा है. कंपनियों ने ये बातें ऐसे समय में कही हैं, जब सिर्फ दो दिन पहले सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्रालय ने इस बारे ऐलान किया.

ये भी पढ़ें:- BJP के मिशन 2024 में जुटे नड्डा, असम से शुरू करेंगे 100 दिनों का मास्टर प्लान
क्या है इस कानून में?


पाकिस्तान के अखबार डॉन के मुताबिक आईटी मंत्रालय के द्वारा बुधवार को घोषित नए नियमों के तहत सोशल मीडिया कंपनियों और इंटरनेट सेवा देने वाली कंपनियों को हर वो जानकारी देनी होगी, जो जांच एजेंसियां मांगेंगी. इन जानकारियों में सब्सक्राइबर की सूचना, ट्रैफिक डेटा और यूजर के डेटा जैसी संवेदनशील जानकारियां भी शामिल हो सकती हैं. नए नियमों के तहत, सोशल मीडिया कंपनियों या इंटरनेट सेवा देने वालों को इस्लाम की अवहेलना करने वाली सामग्री, आतंकवाद को बढ़ावा देने, अभद्र भाषा, अश्लील साहित्य या किसी भी सामग्री को खतरे में डालने के लिए 3.14 मिलियन डॉलर तक का जुर्माना लगाया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज