Home /News /world /

नवाज शरीफ की बढ़ी मुश्किलें, पाकिस्तान हाईकोर्ट ने अदालत में पेश होने का दिया आदेश

नवाज शरीफ की बढ़ी मुश्किलें, पाकिस्तान हाईकोर्ट ने अदालत में पेश होने का दिया आदेश

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि सेना प्रमुख कमर बाजवा ने उनकी सरकार गिराई. (File Photo)

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि सेना प्रमुख कमर बाजवा ने उनकी सरकार गिराई. (File Photo)

लाहौर हाईकोर्ट (Lahore High Court) ने पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) को उपचार के लिए चार सप्ताह के लिए विदेश जाने की अनुमति दी थी, जिसके बाद शरीफ पिछले साल नवंबर से लंदन में हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) की एक हाईकोर्ट (Nawaz Sharif) ने विदेश सचिव को बृहस्पतिवार को आदेश दिया कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) को 22 सितंबर को अदालत के समक्ष पेश किया जाए. लाहौर हाईकोर्ट (Lahore High Court) ने शरीफ (70) को इलाज कराने के लिए चार सप्ताह के लिए विदेश जाने की अनुमति दी थी, जिसके बाद शरीफ पिछले साल नवंबर से लंदन में हैं.

    शरीफ, उनकी बेटी मरियम और दामाद मोहम्मद सफदर को छह जून 2018 को एवनफील्ड सम्पत्तियों के मामले में दोषी ठहराया गया था. पूर्व प्रधानमंत्री को दिसंबर 2018 में अल-अजीजिया स्टील मिल्स मामले में भी सात साल कारावास की सजा सुनाई गई थी, लेकिन वह दोनों ही मामलों में जमानत पर रिहा हो गए और उन्हें उपचार के लिए लंदन जाने की भी अनुमति मिल गई. इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने मंगलवार को शरीफ के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था.

    वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) को देश छोड़ने और उपचार के लिए ब्रिटेन जाने की अनुमति देना एक 'गलती' थी और उनकी (खान) सरकार को इस फैसले पर 'अफसोस' है.

    इसे भी पढ़ें :- PAK: तोशखाना मामले में जरदारी और गिलानी दोषी करार, नवाज भगोड़ा घोषित

    चार सप्ताह के लिए ब्रिटेन जाने की मिली थी इजाजत
    लाहौर उच्च न्यायालय ने शरीफ को उपचार के वास्ते चार सप्ताह के लिए विदेश जाने की अनुमति दी थी जिसके बाद उन्हें पिछले साल नवंबर में लंदन जाने की इजाजत दी गई थी. शरीफ ने कानून व्यवस्था का पालन करने के अपने इतिहास का हवाला देते हुए अदालत में हलफनामा दायर किया था और कहा था कि वह चार सप्ताह के भीतर या डॉक्टरों द्वारा स्वस्थ घोषित किए जाने पर पाकिस्तान लौट आएंगे.

    एआरवाई न्यूज को गुरुवार को दिए अपने साक्षात्कार में खान ने कहा कि शरीफ को पाकिस्तान जाने की अनुमति देना उनकी एक 'गलती' थी. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार को शरीफ पर से पाबंदियां हटाने का 'अफसोस' है.undefined

    Tags: High court, Imran khan, Nawaz sharif, Pakistan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर