पाकिस्तान में हिंदू नेता ने मंदिर पर हमले की संभावना जताई, सुरक्षा की मांग की

पाकिस्तान में हिंदू मंदिर के तोड़े जाने की संभावना को देखते हुए सुरक्षा की मांग की गई है. फाइल फोटो:AFP

Protection Demand for Hindu Temple in Pakistan: पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय (Hindu Minority) के नेता हारुन सरब दयाल (Harun Sarab Dayal) ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के एबटाबाद जिले में स्थित मंदिर पर हमले की संभावना (Attack on Hindu Temple) जताते हुए सरकार से इसकी सुरक्षा की मांग की है.

  • Share this:
    इस्लामाबाद. पाकिस्तान में मंदिरों पर लगातार हो रहे हमलों की खबरें आ रही हैं. पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय (Hindu Minority) के नेता हारुन सरब दयाल (Harun Sarab Dayal) ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के एबटाबाद जिले में स्थित मंदिर पर हमले की संभावना (Attack on Hindu Temple) जताते हुए सरकार से इसकी सुरक्षा की मांग की है. उन्होंने बताया कि कुछ शरारती तत्व मंदिर की जमीन पर कब्जे के उद्देश्य से इसे तोड़ना चाहते हैं. हिन्दू नेता हारून सरब दयाल ने कहा कि हवेलियां शहर में मंदिर एक ऐतिहासिक संरचना है जो काफी जर्जर अवस्था में है और अब भू-माफिया मंदिर की जमीन पर कब्जा करने के लिए इस विरासत को नष्ट करने पर आमादा हैं. उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि कुछ शरारती तत्वों ने देश में अराजकता फैलाने के लिए हवेलियां शहर में मंदिर की जमीन पर कब्जा करना चाह रहे हैं.

    हमले सिर्फ मंदिरों तक ही सीमित नहीं: दयाल

    दयाल ने कहा कि तोड़फोड़ के मामले मंदिरों तक ही सीमित नहीं हैं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के अन्य मंदिरों, धर्मशालाओं, पाठशालाओं, गौशालाओं, अनाथ आश्रमों, श्मशान घाटों, सत्संग हॉल, गुरुद्वारों और अन्य पूजा स्थल भी इनके निशाने पर हैं जिन्हें सरकारी संरक्षण की जरूरत है. हिंदू नेता के अनुसार पकिस्तान में अल्पसंख्यकों के पूजास्थलों पर खतरों को देखते हुए उनकी सुरक्षा के लिए सरकार को इनके आसपास पुलिस दल तैनात करने चाहिए ताकि अन्य मंदिरों की तरह यह हमले का शिकार न बन सके.

    टेरी गांव में मंदिर तोड़ने की घटना आई थी सामने

    हाल ही में बलूचिस्तान के करक जिले में स्थित टेरी गांव के एक मंदिर पर कुछ हफ्ते पहले कट्टरपंथी मुस्लिमों ने हमला कर उसे भारी क्षति पहुंचाई थी क्योंकि हिंदू समुदाय के सदस्यों को स्थानीय अधिकारियों से इसकी दशकों पुरानी इमारत की मरम्मत के साथ नए निर्माण कार्य की अनुमति मिली थी जिससे स्थानीय लोग खुश नहीं थे. भीड़ ने हमले में पुरानी संरचना के साथ-साथ नए निर्माण कार्य को ध्वस्त कर दिया था. पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने मंदिर के पुनर्निर्माण का आदेश दिया था साथ ही मुख्य आरोपी को हिरासत में लेने का आदेश भी दिया था. इस मंदिर के पुर्ननिर्माण का खर्च भी आरोपी मौलवी और उनके समर्थकों से वसूलने को कहा गया है.

    ये भी पढ़ें: PAK: सिंधुदेश बनाने की मांग की, PM नरेंद्र मोदी की फोटो हाथों में लिए दिखे प्रदर्शनकारी

    पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ ने प्रधानमंत्री इमरान खान को 'अपराधी' बताया

    पकिस्तान में हिन्दुओं की आबादी 90 लाख से ज्यादा है और अधिकांश आबादी सिंध प्रांत में रहती है. वहां हिन्दुओं पर इस्लामी चरमपंथियों द्वारा प्रताड़ित किए जाने की खबरें अक्सर आती हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.