लाइव टीवी

करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के मौके पर इमरान ने फिर अलापा कश्मीर राग, कहा- हटाई जाएं सारी पाबंदियां

News18Hindi
Updated: November 10, 2019, 10:48 AM IST
करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के मौके पर इमरान ने फिर अलापा कश्मीर राग, कहा- हटाई जाएं सारी पाबंदियां
इमरान खान ने कहा, घाटी में लगाई सभी पाबंदियों को हटाया जाए.

करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) के उद्घाटन मौके पर इमरान खान (Imran Khan) ने अपील भी की कि जम्मू-कश्मीर (jammu Kashmir) का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने के बाद घाटी में लगाई सभी पाबंदियों को हटाया जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2019, 10:48 AM IST
  • Share this:
करतारपुर. पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने शनिवार को ऐतिहासिक करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) के उद्घाटन के मौके पर एक बार फिर कश्मीर मुद्दा उठाया. इमरान ने कहा कि कश्मीरियों (Kashmir) के लिए इंसाफ सुनिश्चित करने से भारत एवं पाकिस्तान के बीच संवाद के नए चैनल खुलेंगे तथा उनके संबंधों में सुधार आएगा. इस दौरान इमरान ने अपील भी की कि जम्मू-कश्मीर (jammu Kashmir) का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने के बाद घाटी में लगाई सभी पाबंदियों को हटाया जाए.

उन्होंने कहा कि कश्मीर मुद्दे (Kashmir Issue) से दोनों देशों के बीच 70 सालों से नफरत पलता गया और यही समय है कि दोनों पक्ष दोनों देशों के विकास एवं समृद्धि का नया मार्ग तैयार करने के लिए इसके समाधान का प्रयास करें. इमरान खान ने उम्मीद जतायी कि करतारपुर गलियारे के खुल जाने से दुनियाभर में सिखों में सद्भावना पैदा होगी. उन्होंने कहा कि गुरूद्वारा करतारपुर साहिब का सिखों के लिए वही महत्व है जो मदीना का मुसलमानों के लिए महत्व है.

गर्म हॉट एयर बलून की मदद से उठाया गया पर्दा
कश्मीर को लेकर द्विपक्षीय संबंधों में तनाव के बीच लोगों के मध्य आपसी संवाद की इस बिरले एवं ऐतिहासिक पहल के तहत करतारपुर गलियारे को भारतीय सिख श्रद्धालुओं के लिए खोला गया है. इससे उन्हें पाकिस्तान के नरोवाल में सिखों के पावन स्थल तक वीजामुक्त आवागमन में मदद मिलेगी. इमरान ने पर्दा हटाकर करतारपुर गलियारे का उद्घाटन किया. इस पर्दे को गर्म हॉट एयर बलून की मदद से उठाया गया. उद्घाटन स्थल पर विशाल आकार के ‘कृपाण’ को प्रदर्शित किया गया.

पहले जत्थे में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह भी
इस मौके पर मौजूद भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू सहित 12,000 श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए पाकिस्तान के पीएम ने कहा, ‘मैं खुश हूं कि हम आपके लिए यह कर सके.’ उन्होंने कहा, ‘मुझ पर यकीन कीजिए, एक साल पहले तक मैं करतारपुर के महत्व को लेकर अनभिज्ञ था, मुझे सालभर पहले ही इसका पता चला.’

‘ मुझे उम्मीद है कि एक दिन हमारे संबंध सुधरेंगे’
Loading...

इमरान ने अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने का जिक्र करते हुए कहा कि कश्मीरियों के लिए इंसाफ सुनिश्चित करने से भारत एवं पाकिस्तान के बीच संवाद के नये चैनल खुलेंगे तथा उनके संबंधों में सुधार आएगा. उन्होंने कहा, ‘ उम्मीद है कि एक दिन हमारे संबंध सुधरेंगे.’

गुरुनानक देव ने अपने जीवन के आखिरी 18 साल करतारपुर साहिब में बिताए थे जो अब दुनिया का सबसे बड़ा गुरुद्वारा बन गया है. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा, ‘ मैं हमेशा आने वाले सिख समुदाय को देख कर खुश होता हूं. ईश्वर सभी के दिलों में रहता है. जो भी पैगंबर यहां आए हैं और यहां से गये हैं, वे सभी अपने साथ केवल दो संदेश लेकर आए जो ‘शांति’ और ‘न्याय’ के संदेश रहे हैं.’

भारतीय सिख श्रद्धालुओं का किया स्वागत
उससे पहले इमरान ने करतारपुर स्थित दरबार सहिब के विभिन्न हिस्सों के दर्शन किए. उन्होंने भारत के गुरदासपुर स्थित बाबा नानक गुरुद्वारे को पाकिस्तान के करतारपुर स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब से जोड़ने वाले इस गलियारे के रास्ते आए भारतीय सिख श्रद्धालुओं के पहले जत्थे का स्वागत किया.

(भाषा इनपुट के साथ)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 10, 2019, 10:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...