पाकिस्तान: आधिकारिक नतीजे घोषित, PTI बनी सबसे बड़ी पार्टी

पाकिस्तान चुनाव आयोग ने जानकारी दी कि इमरान खान की PTI ने 269 सीटों में से 109 सीटें जीती है. वहीं शहबाज शरीफ की पाकिस्तान मुस्लिम लीग को 63 सीटें मिली हैं.

News18Hindi
Updated: July 27, 2018, 12:46 PM IST
पाकिस्तान: आधिकारिक नतीजे घोषित, PTI बनी सबसे बड़ी पार्टी
इमरान खान की फाइल फोटो- PTI
News18Hindi
Updated: July 27, 2018, 12:46 PM IST
पाकिस्तान के आम चुनावों के नतीजे आधिकारिक तौर पर घोषित कर दिए गए हैं. पाकिस्तान चुनाव आयोग की ओर से जानकारी दी गई है कि इमरान खान की पार्टी, तहरीक-ए-इंसाफ सबसे बड़ी पार्टी बनी है. हालांकि उसे सरकार बनाने के लिए और सांसदों की जरूरत होगी.

बहुत ही धीमी गिनती के बाद शुक्रवार को पाकिस्तान चुनाव आयोग ने जानकारी दी कि खान की PTI ने 269 सीटों में से 109 सीटें जीती है. वहीं शहबाज शरीफ की पाकिस्तान मुस्लिम लीग को 63 सीटें मिली हैं. तीसरे नंबर पर पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी रही जिसे 39 सीटें मिली है. समाचार लिखे जाने तक 20 सीटों पर गिनती जारी थी.

दूसरी ओर जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने आम चुनाव के परिणाम को 'चोरी का जनादेश' करार देते हुए चेताया कि 'दागदार और संदिग्ध' परिणाम का देश की राजनीति को दूषित कर देगा.

यह भी पढ़ें: वो हिंदू नेता, जिसने जनरल सीट पर पाकिस्तान में जीता चुनाव

डॉन अखबार की खबर के अनुसार, अडियाला जेल में मिलने आने वालों से बातचीत के दौरान पीएमएल-एन के पूर्व प्रमुख ने फैसलाबाद, लाहौर और रावलपिंडी के चुनाव परिणामों पर संदेह जताया.

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में कुल 342 सदस्य होते हैं जिनमें से 272 को आम चुनावों में सीधे तौर पर चुना जाता है जबकि शेष 60 सीटें महिलाओं और 10 सीटें धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित हैं. आम चुनावों में पांच फीसदी से ज्यादा वोट पाने वाली पार्टियां इन आरक्षित सीटों पर समानुपातिक प्रतिनिधित्व के हिसाब से अपने प्रतिनिधि भेज सकती हैं. कुल 172 सीटें पाने वाली पार्टी सरकार बना सकती है.

इमरान खान ने चुनाव के बाद अपने पहले सार्वजनिक संबोधन में कहा, '22 साल के लंबे संघर्ष के बाद अल्लाह ने आखिरकार मुझे उस घोषणापत्र को लागू करने का मौका दिया जिसका सपना मैंने करीब दो दशक पहले देखा था.'
Loading...

यह भी पढ़ें: PoK को वापस लेने के अलावा कश्मीर को लेकर अन्य कोई मुद्दा नहीं: जितेंद्र सिंह

वीडियो लिंक के जरिये सीधे प्रसारित किए गए अपने भाषण में खान ने पाकिस्तान की संस्थाओं को और मजबूत बनाने का वादा किया जिनके तहत सबकी जवाबदेही तय की जाएगी.

उन्होंने वीआईपी संस्कृति खत्म करने और मौजूदा पीएम हाउस (प्रधानमंत्री निवास) को एक शिक्षा संस्थान में बदलने का वादा करते हुए कहा, 'सबसे पहले मैं जवाबदेही के घेरे में आऊंगा, फिर मेरे मंत्री और अन्य. आज हम (दूसरे देशों से) पीछे हैं क्योंकि सत्ता में बैठे लोगों के लिए एक अलग व्यवस्था है जबकि सामान्य नागरिकों के लिए एक अलग.'

यह भी पढ़ें पाकिस्तानी सेना के ‘लाडले’ बने इमरान ने 2012 में कहा था- सेना के दिन अब लद गए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 27, 2018, 12:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...