पाकिस्तान: कोरोना के मामले बढ़े तो हेल्थ सेक्रेट्री निलंबित लेकिन PSL मैच नहीं रुकेगा

कोरोना के बढ़ते मामले के बीच PSL मैच के कराची में होने पर काफी सवाल खड़े हो रहे हैं.

कोरोना के बढ़ते मामले के बीच PSL मैच के कराची में होने पर काफी सवाल खड़े हो रहे हैं.

एक तरफ कोरोना के मामले बढ़कर 20 हो जाने पर एक हफ्ते पहले ही नियुक्त किए गए हेल्थ सेक्रेट्री डॉक्टर सैयद ताकिर हुसैन शाह (Syed Tauqir Hussain Shah) को हटा दिया गया लेकिन आलोचनाओं के बावजूद PSL का मैच कराची में ही हो रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 12, 2020, 12:15 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) की चेतावनी के बावजूद भी कोरोना (Coronavirus) के प्रति पाकिस्तानी सरकार दोहरा रवैया अपने हुए है. एक तरफ कोरोना के मामले बढ़कर 20 हो जाने पर एक हफ्ते पहले ही नियुक्त किए गए हेल्थ सेक्रेट्री डॉक्टर सैयद ताकिर हुसैन शाह (Syed Tauqir Hussain Shah) को हटा दिया गया. उधर पाकिस्तानी क्रिकेट सुपर लीग (PSL) के मैच को देश के सबसे भीड़भाड़ वाले शहर कराची में शिफ्ट कर दिया गया है.

पाकिस्तान सरकार पर फिर उठे सवाल

खुद पाकिस्तानी मीडिया में ही इस तरह की ख़बरें आ रहीं हैं कि PSL मैच बचाने के लिए सरकार कोरोना के मामलों को दबाने में लगी हुई है. WHO के चीफ टेडरॉस एडनॉम (Tedros Adhanom) ने भी 4 मार्च को इस्लामाबाद में आयोजित एक कांफ्रेस में किसी देश का नाम न लेते हुए ये शक जाहिर किया था कि कुछ देश कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों की सही जानकारी मुहैया नहीं करा रहे हैं. पाकिस्तानी मीडिया में शक जाहिर किया जा रहा है कि हर दिन सामने आ रहे कोरोना के मामलों से साफ़ है कि स्थिति नियंत्रण में नहीं है. दरअसल कर्ज में डूबे पाकिस्तान को PSL से बड़ी आमदनी होने की उम्‍मीद है और इसी के चलते उसने मैच कैंसिल नहीं किए हैं.

14 साल के बच्चे को हुआ कोरोना
बता दें कि बुधवार को गिल्गिट बाल्टिस्तान में 14 साल के एक बच्चे की जांच में कोविड-19 के पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब पाकिस्तान में कोरोनावायरस के मामले बढ़कर 20 हो गए हैं. पाकिस्तान में मंगलवार को एक दर्जन नये मामले सामने आने के बाद कोरोनावायरस संक्रमित व्यक्तियों की संख्या अचानक बढ़ गई है.



डॉक्टर शाह जमां ने बताया कि अपनी मां के साथ हाल ही में ईरान से लौटे इस बच्चे में कोरोना के लक्षण नजर आये और उसे उसके परिवार के सदस्यों के साथ आइसोलेशन में रखा गया है. मंगलवार रात को बलूचिस्तान से भी कोरोनावायरस के पहले मामले की पुष्टि हुई थी. यहां भी मरीज 12 साल एक बच्चा है.



पाकिस्तान के मंत्री और PSL अधिकारी दे रहे हैं सफाई!

कोरोना वायरस और कराची में PSL मैच से जुड़े एक सवाल के जवाब में शहर के पुलिस कमिश्नर ने डॉन को बताया कि स्टेडियम में एंट्री से पहले ही हाथ धोने के लिए साबुन, सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है. इसके अलावा छींकने, खांसने और सर्दी-जुकाम वालों की एंट्री बिना जांच के नहीं होगी. लोगों को बाज़ार का खाना न खाने की सलाह भी दी जा रही है. जो लोग मैच देखने आ रहे हैं उन्हें मास्क पहनने या फिर रुमाल से नाक ढकने की भी सलाह दी जा रही है. लोगों को बताया जा रहा है कि बगल वाले की कुर्सी से दूर रहे और शक होने पर अपनी कुर्सी के हत्थे को साफ़ कर लें. लोगों को हाथ न मिलाने और गले न लगने की भी हिदायत दी गई है.

बता दें कि WHO के बयान के बाद कोरोना वायरस के केसों को छिपाने के आरोप को प्रधान मंत्री इमरान खान के विशेष सहायक डॉ. जफर मिर्जा ने निराधार बताया था और कहा कि सरकार द्वारा कोरोनोवायरस के मामलों की कुल संख्या को छिपाने की रिपोर्टें झूठी हैं. हालांकि जिस तरह से अचानक दर्जन भर मामले सामने आए हैं इससे इमरान सरकार पर फिर सवाल खड़े हो गए हैं.

ये भी पढ़ें:

कोरोना मरीजों के आते ही खाली हो गया आठ मंजिला अस्पताल का हर कमरा

कौन हैं MP के गवर्नर लालजी टंडन, जिन पर टिकी हैं अब सबकी निगाहें


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज