भारतीय राजनयिक के खिलाफ पाकिस्तान की जासूसी, गौरव अहलूवालिया की कार का ISI एजेंट ने बाइक से किया पीछा

 ISI के लोग बाइक से अहलूवालिया का पीछा करते हुए (वीडियो ग्रैब)
ISI के लोग बाइक से अहलूवालिया का पीछा करते हुए (वीडियो ग्रैब)

समाचार एजेंसी ANI ने घटना को लेकर एक वीडियो जारी किया है. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि पाकिस्तान (Pakistan) की खुफिया एजेंसी ISI का एक एजेंट बाइक से गौरव अहलूवालिया (Gaurav Ahluwalia) का पीछा कर रहा है.

  • Share this:
इस्लामाबाद.  भारत और पाकिस्तान (Pakistan) के बीच राजनयिक स्तर पर तल्खी का दौर लगातार जारी है. आईएसआई ने इस बार पाकिस्तान में मौजूद भारतीय राजनयिक गौरव आहलूवालिया को परेशान करने की कोशिश की. बता दें कि अहलूवालिया पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद (Islamabad) में भारतीय उप उच्चायुक्त हैं. दो दिन पहले ISI के लोगों ने बाइक से अहलूवालिया का पीछा किया. इस घटना का वीडियो सामने आया है.

क्या है वीडियो में
समाचार एजेंसी एएनआई ने घटना को लेकर एक वीडियो जारी किया है. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि ISI का एक एजेंट, बाइक से गौरव अहलूवालिया का पीछा कर रहा है. दावा किया जा रहा है कि इस्लामाबाद में उनके घर के बार जासूसी के लिए कई बाइक और कारें खड़ी हैं.

भारत करेगा शिकायत
भारत ने पाकिस्तान की इस हरकत का कड़ा विरोध किया है. कहा जा रहा है कि भारत पाकिस्तान की इस हरकत का शिकायत करेगा. इस बीच सूत्रों के मुताबिक दिल्ली में पाकिस्तान के हाई कमिश्नर ने किसी भी तरह के जासूसी से इनकार किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस साल सिर्फ मार्च के महीने में 13 बार भारतीय राजनयिकों को परेशान करने की कोशिश की गई



पाकिस्तानी उच्चायोग के दो अधिकारियों को देश छोड़ने का आदेश
बता दें कि भारत ने पाकिस्तानी उच्चायोग के दो अधिकारियों को जासूसी के आरोप में रविवार को 24 घंटे के अंदर देश छोड़कर जाने का आदेश दिया था. आधिकारिक सूत्रों ने बताया था आबिद हुसैन और मोहम्मद ताहिर नाम के अधिकारियों को दिल्ली पुलिस ने उस वक्त गिरफ्तार किया, जब वे रुपयों के बदले एक भारतीय नागरिक से भारतीय सुरक्षा प्रतिष्ठानों से संबंधित संवेदनशील दस्तावेज हासिल कर रहे थे.

पाकिस्तान का आरोपों से इनकार
इस बीच पाकिस्तान विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता आइशा फारुकी ने कहा है कि पाकिस्तान की तनाव बढ़ाने की कोई मंशा नहीं है, उन्होंने कहा, 'हमने संयम बरतते हुए प्रतिक्रिया दी है. हालांकि राजनयिक नियमों का उल्लंघन और भारत का लगातार लड़ाकू रवैया क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा के लिए खतरा है.’ फारुकी ने दोहराया कि पाकिस्तानी अधिकारियों पर लगाए गए आरोप ‘झूठे’ और ‘बेबुनियाद’ हैं.

ये भी पढ़ें:

दिल्ली में 25 हजार पार हुई कोरोना मरीजों की संख्या, अब तक 650 की मौत

nlock-1: मंदिरों में न मिलेगा प्रसाद, न छू सकेंगे मूर्ति; लेकर जाना होगा आसन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज