Home /News /world /

भारत पाकिस्‍तान तनाव: दो दिन में क्‍या-क्‍या हुआ, कैसे बदले हालात

भारत पाकिस्‍तान तनाव: दो दिन में क्‍या-क्‍या हुआ, कैसे बदले हालात

भारत और पाकिस्‍तान के बीच पिछले दो दिनों में हुए घटनाक्रम के बाद रिश्‍तों में तनाव है. सीमा पर दोनों ओर से चुस्‍ती बरती जा रही है. इस सबकी शुरुआत हुई मंगलवार सुबह को.

भारत और पाकिस्‍तान के बीच पिछले दो दिनों में हुए घटनाक्रम के बाद रिश्‍तों में तनाव है. सीमा पर दोनों ओर से चुस्‍ती बरती जा रही है. इस सबकी शुरुआत हुई मंगलवार सुबह को.

भारत और पाकिस्‍तान के बीच पिछले दो दिनों में हुए घटनाक्रम के बाद रिश्‍तों में तनाव है. सीमा पर दोनों ओर से चुस्‍ती बरती जा रही है. इस सबकी शुरुआत हुई मंगलवार सुबह को.

    भारत और पाकिस्‍तान के बीच पिछले दो दिनों में हुए घटनाक्रम के बाद रिश्‍तों में तनाव है. सीमा पर दोनों ओर से चुस्‍ती बरती जा रही है. इस सबकी शुरुआत हुई मंगलवार सुबह को. पाकिस्‍तानी सेना के प्रवक्‍ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर जानकारी दी कि भारतीय वायु सेना ने उसके हवाई क्षेत्र में घुसपैठ की और पाकिस्‍तानी वायु सेना के लड़ाकू विमानों को भेजे जाने के बाद वे चले गए.

    थोड़ी देर बाद सूत्रों के हवाले से सामने आया कि भारतीय वायु सेना ने 26 फरवरी की रात करीब 3:30 बजे पाकिस्‍तान के बालाकोट, मुजफ्फराबाद और चिकोठी में जैश ए मोह‍म्‍मद के ट्रेनिंग कैंप पर हवाई हमले किए. 12 मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने आतंकी कैंपों पर छह बम गिराए. इसमें 200 से 300 आतंकियों के मारे जाने की जानकारी सामने आई. यह कार्रवाई पुलवामा हमले के 12 दिन बाद हुई. ये विमान मध्‍य प्रदेश के ग्‍वालियर एयरबेस से उड़े थे.

    सुबह आठ बजे के करीब पाकिस्‍तानी सेना की ओर से कहा गया कि भारतीय लड़ाकू विमान वापस जाते समय नियंत्रण रेखा के पास बम गिरा गए. भारत की ओर से पहली आधिकारिक प्रतिक्रिया सुबह 11 बजे के आसपास आई. विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि जैश ए मोहम्‍मद भारत में कई हमले करने की फिराक में थे. ऐसे में पाकिस्‍तान में बालाकोट में जैश ए मोहम्‍मद के आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया. इसके जरिए जैश ए मोहम्‍मद के सबसे बड़े आतंकी कैंप को नष्‍ट किया गया. इसके बाद भारत की ओर से प्रतिक्रियाएं आना शुरू हो गईं. बॉलीवुड, खेल सहित कई क्षेत्रों के लोगों ने भारतीय वायु सेना के हमलों की तारीफ की.

    पाकिस्‍तान ने भारत के दावों का खंडन किया. उसने कहा कि भारत ने खाली जगह पर बम गिराए. वहीं पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने नेशनल सिक्योरिटी कमेटी की मीटिंग बुलाई. इस पर हवाई हमले पर चर्चा हुई. मीटिंग के बाद पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि भारत की वायुसेना के जेट पाकिस्तान की सीमा में पहुंचे. यह हमारी संप्रभुता के खिलाफ की गई कार्रवाई है. भारत इसका बदला लेगा.

    वहीं ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ कार्रवाई करने की सलाह दी. ऑस्ट्रेलिया की ओर से कहा गया, “पाकिस्तान को अपने क्षेत्र में आतंकवादी समूहों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करनी चाहिए, जिसमें जैश-ए-मोहम्मद भी शामिल है, जिसने 14 फरवरी को पुलवामा में हुए हमले की जिम्मेदारी ली थी.”

    इस्लामिक देशों के संगठन ने पाकिस्तान के आतंकवादी ठिकानों पर भारत के एयर स्ट्राइक की निंदा की है. ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉरपोरेशन ने अपने अधिकारिक बयान में कहा है कि 26 फरवरी को भारत की ओर से क्षेत्रीय सीमा नीति का उल्लंघन करके पाकिस्तान में 4 बम गिराना गलत है.

    बाद यह बयान दिया. कहा कि उनका देश अपनी रक्षा करना जानता है. सूत्रों ने बताया कि हवाई हमलों के बाद मसूद अजहर को सुरक्षित जगह पर शिफ्ट किया गया.

    पाकिस्‍तान के रक्षा मंत्री परवेज खटक ने भारत के हवाई हमलों की पुष्टि करते हुए कहा कि उनकी वायु सेना तैयार थी लेकिन अंधेरा होने की वजह से वे नुकसान का अंदाजा नहीं लगा सके. उन्‍होंने दावा किया कि पाकिस्‍तानी वायु सेना ने पहले नुकसान का अंदाजा लगाने का इंतजार किया. अगर भारत ने दोबारा से ऐसा किया तो उन्‍हें जवाब दिया जाएगा.

    भारत ने सर्वदलीय बैठक बुलाई और हवाई हमलों के बारे में जानकारी दी. साथ ही विदेश मंत्रालय ने विदेशी राजनयिकों को भी इस बारे में बताया कि यह असैन्‍य कार्रवाई थी जिसमें नागरिकों को कोई नुकसान नहीं हुआ. केवल आतंकियों को ही निशाना बनाया गया.

    हवाई हमलों पर बालाकोट के लोगों ने बताया कि धमाकों से ऐसे लगा जैसे कोई जलजला आ गया हो.

    इसके बाद मंगलवार रात को पाकिस्‍तान ने नियंत्रण रेखा पर पांच जगहों पर युद्धविराम तोड़ा. इसके तहत गोले दागे गए. भारत ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया.

    बुधवार सुबह‍ पाकिस्‍तानी लड़ाकू विमानों ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की. भारत ने इसका जवाब दिया. शुरुआत में खबर आई कि भारत ने पाकिस्‍तान के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया. वहीं भारत का एक हैलिकॉप्‍टर MI-17 बड़गाम में क्रैश हो गया. पाकिस्‍तान ने इसके जवाब में कहा कि भारत का मिग-21 विमान गिराया है और दो पायलट उसकी हिरासत में है. पाकिस्‍तान सेना के प्रवक्‍ता ने कहा कि पाकिस्‍तान वायु सेना ने अपनी ताकत दिखाने के लिए भारत की पांच जगहों पर हमले किए. भारत ने इन दावों का खंडन किया.

    पाकिस्‍तान ने वीडियो जारी कर बताया कि एक पायलट उनकी हिरासत में है. भारत ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि उनका एक पायलट लापता है. पाकिस्‍तान का कहना है कि वह उनके पास है. इन दावों की जांच की जा रही है. भारतीय वायु सेना ने एक एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया है और एक मिग विमान गंवाया है.

    इस घटनाक्रम के बाद भारत और पाकिस्‍तान के कई शहरों की हवाई सेवाएं रद्द कर दी गई. इनमें भारत के श्रीनगर, लेह, अमृतसर, देहरादून, जैसलमेर और पाकिस्‍तान के इस्‍लामाबाद, लाहौर जैसे शहर शामिल थे.

    पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि उनका देश अमन चाहता है. पाकिस्‍तान ने विमान भेजकर यह जताया है कि हम अपनी संप्रभुता की रक्षा कर सकते हैं. उन्‍होंने कहा कि भारत के दो पायलट हमारे पास हैं.

    इमरान ने कहा, 'मैं हिन्दुस्तान से कहना चाहता हूं कि हम लोग अक्ल और भरोसे से काम लें. उन्होंने कहा कि दुनिया में इससे पहले जो जंग हुई तो है लेकिन इसका पता नहीं चला कि वो खत्म कब होंगी. जंग छिड़ने के बाद  यह मेरे या नरेंद्र मोदी के कंट्रोल में नहीं रह जाएगा.'

    बाद में विदेश मंत्रालय ने माना कि हमारा एक पायलट पाकिस्‍तान के पास है. भारत ने जल्‍द से जल्‍द पायलट को वापस भेजने की मांग की है. भारत सरकार ने बुधवार को पाकिस्तान को एक डोजियर भी सौंपा.

    विदेश मंत्रालय ने अब पाकिस्तान के डेप्युटी हाई कमिश्नर सैयद हैदर शाह को तलब भी किया.

    वहीं पाकिस्‍तान ने भी कहा कि उसके पास केवल एक ही भारतीय पायलट है. उनकी पहचान विंग कमांडर अभिनंदन के रूप में हुई. पाकिस्‍तान जेनेवा समझौते से बंधा हुआ है. ऐसे में विंग कमांडर की रक्षा करना पाकिस्‍तान की जिम्‍मेदारी है.

    वहीं 21 विपक्षी दलों ने बीजेपी पर हवाई हमलों का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया. राहुल गांधी के नेतृत्‍व में विपक्षी दलों ने कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन को सुरक्षित वापस लाया जाए.

    इधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने मामले की जानकारी दी. उन्‍होंने जल, थल और वायु सेना के प्रमुखों से भी बात की. यह मुलाकात करीब 90 मिनट तक चली.

    भारत और पाकिस्तान के बीच तल्खियों के बीच कई लोग युद्ध न होने के लिए प्रार्थना कर रहे हैं. कई लोग ट्विटर पर #SayNoToWar हैशटैग से ट्वीट करके दोनों देशों को युद्ध के बजाय अमन और शांति से हर मसले का हल निकालने की कोशिश करें.

    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पाकिस्तान ने कृष्णा घाटी स्थित बटालियन हेडक्वार्टर पर निशाना साधने की कोशिश की. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पाकिस्तान ने नियारी सप्लाई और सैन्य ठिकानों पर निशाना लगाने की कोशिश की हालांकि वह इसमें सफल नहीं हो पाया. पाकिस्तानी वायुसेना ने 4 सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की.

    बुधवार शाम को एक बार फिर से नियंत्रण रेखा पर पाकिस्‍तान ने मेंढर सेक्‍टर में गोलीबारी की.

    Tags: Air Strike, Imran khan, India pakistan, Indian Airforce, Indian army, Narendra modi, Pakistan, Pulwama, Surgical Strike

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर