होम /न्यूज /दुनिया /बाढ़ से पाकिस्तान पस्त: क्या भारत से शुरू करेगा व्यापार? जानें क्या बोले बिलावल भुट्‌टो

बाढ़ से पाकिस्तान पस्त: क्या भारत से शुरू करेगा व्यापार? जानें क्या बोले बिलावल भुट्‌टो

भारत के साथ व्यापार करने के मुद्दे पर पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने बयान दिया है. (फाइल फोटो)

भारत के साथ व्यापार करने के मुद्दे पर पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने बयान दिया है. (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने इस मुद्दे पर बयान दिया है. बिलावल भुट्टो ने कहा कि भारत से व्यापार की शुरुआत ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भारत के साथ व्यापार करने के मुद्दे पर पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने बयान दिया है.
पाकिस्तान के वित्‍त मंत्री मिफ्तााह इस्‍माइल ने कहा था कि भारत के साथ व्यापार करने पर सोचा जाएगा.
भारत ने कहा था कि जब तक इस्लामाबाद सीमा पार आतंकवादको बंद नहीं करता, तब तक व्यापार संभव नहीं है.

नई दिल्ली. आर्थिक संकट और भयानक बाढ़ की समस्या से जूझ रहे पाकिस्तान की सरकार ने भारत के साथ व्यापार शुरू करने का विचार किया है. वहीं भारत ने स्पष्ट रूप से कहा है कि जब तक इस्लामाबाद सीमा पार आतंकवाद बंद नहीं करता तब तक दोनों देशों के बीच व्यापार संभव नहीं है. वहीं अब पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने इस मुद्दे पर बयान दिया है. बिलावल भुट्टो ने कहा कि भारत से व्यापार की शुरुआत पर कोई फैसला नहीं लिया गया है, हमारा फोकस राहत कार्य पर है.  वहीं पाकिस्तान के एक प्रमुख व्यापार मंडल ने मंगलवार को सरकार से आग्रह किया कि विनाशकारी बाढ़ के कारण देश में सब्जियों की बढ़ती कीमतों पर लगाम लगाने के लिए वाघा सीमा के रास्ते भारत से सब्जियों का आयात फिर से शुरू करने की अनुमति दी जाए.

बता दें कि जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को रद्द करने के भारत के फैसले के बाद पाकिस्तान ने अगस्त, 2019 में भारत के साथ अपने व्यापार संबंधों को सीमित कर दिया था. पाकिस्तान के वित्त मंत्री मिफ्ताह इस्माइल ने हाल ही में कहा कि उनकी सरकार भारत से सब्जियों और अन्य खाद्य वस्तुओं के आयात पर विचार कर सकती है. इस बयान के तुरंत बाद शीर्ष सरकारी सूत्रों के हवाले से ये प्रतिक्रिया आई है. सरकारी सूत्रों ने CNN-News18 को बताया, “हमारे पास भारत में पाकिस्तान से आए लगभग 50 विदेशी आतंकवादियों की रिपोर्ट है. कई आतंकी सीमा के पास बैठे हैं. हम व्यापार वार्ता के लिए खुले हैं, लेकिन उससे पहले पाकिस्तान को तुरंत कार्रवाई करने और आतंकवाद को रोकने की जरूरत है.”

इस साल जून में पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी ने अन्य देशों, विशेषकर भारत के साथ व्यापार और जुड़ाव के पक्ष में बात की थी. हालांकि, बाद में पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने एक स्पष्टीकरण जारी करते हुए कहा कि भारत के प्रति पाकिस्तान की नीति में कोई बदलाव नहीं हुआ है. (इनपुट भाषा से)

Tags: India pakista

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें