फर्जी लाइसेंस मामले में PIA की सख्ती, 52 कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता

फर्जी लाइसेंस मामले में PIA की सख्ती, 52 कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता
कॉन्सेप्ट इमेज.

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) ने शुक्रवार को जाली डिग्री, नियमों के उल्लंघन और आधिकारिक सूचना का खुलासा करने जैसे आरोपों में 52 कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त कर दी हैं.

  • Share this:
इस्लामाबाद. नकदी संकट से जूझ रही पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) ने विभिन्न आरोपों में अपने 52 कर्मचारियों को बर्खास्त (Terminate) कर दिया है. मीडिया की खबरों में कहा गया है कि इन कर्मचारियों को जाली डिग्री, नियमों के उल्लंघन जैसे आरोपों में बाहर का रास्ता दिखाया गया है. बता दें, पिछले महीने राष्ट्रीय विमानन कंपनी ने 140 से अधिक पायलटों को उड़ानों से रोक दिया था. नेशनल असेंबली में इस बात का खुलासा हुआ कि इनमें से कुछ पायलटों के उड़ान लाइसेंस 'संदिग्ध या जाली' हैं.

'डॉन' अखबार ने पीआईए के मानव संसाधन विभाग द्वारा कर्मचारियों को लिखे पत्र का ब्योरा दिया है. पत्र में कहा गया है, 'अनुशासन किसी भी संगठन के लिए सबसे महत्वपूर्ण पहलू है, क्योंकि यह कर्मचारियों को संगठन के नियम और नियमनों का पालन करने के लिए बाध्य और प्रेरित करता है. ऐसे में बिना किसी भेदभाव के पारदर्शी तरीके से हुई जांच के बाद मेहनती कर्मचारियों की प्रशंसा की जानी चाहिए. वहीं ऐसे कर्मचारी जो दोषी हैं उन्हें दंडित किया जाना चाहिए.' रिपोर्ट में कहा गया है कि पीआईए ने शुक्रवार को जाली डिग्री, नियमों के उल्लंघन और आधिकारिक सूचना का खुलासा करने जैसे आरोपों में 52 कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त कर दी हैं.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान: विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी निकले corona पॉजिटिव, कहा- मेरे लिए दुआ करें



PIA की उड़ानों पर रोक
वहीं, लाइसेंस धोखाधड़ी का मामला सामने आने पर कई देशों ने चिंता जाहिर की है. इसी चिंता को लेकर हाल ही में यूरोपीय यूनियन एविएशन सेफ्टी एजेंसी ने यूरोप के लिए पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की उड़ानों पर छह माह के लिए रोक लगा दी है. यूरोपीय यूनियन एविएशन सेफ्टी एजेंसी के कदम के बाद पाकिस्तान ने भी यूरोपीय देशों के लिए पीआइए की सेवा ठप करने की घोषणा की है. यूरोपियन यूनियन एयर सेफ्टी एजेंसी ने यह फैसला 262 पाकिस्तानी पायलटों को फर्जी घोषित करने के बाद लिया.

टिकट घोटालें में लाखों की चपत
पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस अभी पायलटों के फर्जी लाइसेंस के सदमे से उबरी भी नहीं थी कि उसे स्पेशल फ्लाइट के टिकट घोटाले में लाखों की चपत लगी है. बताया जाता है कि यूरोप के लिए इन विशेष उड़ानों की टिकट बिक्री में अधिकारियों ने 80 लाख रुपये से अधिक के घोटाले को अंजाम दिया है. अधिकारियों ने विशेष उड़ानों से उन 50 यात्रियों को भी इटली और फ्रांस भेज दिया जिन्होंने पहले से टिकट खरीद रखे थे जबकि नियमों के मुताबिक, विशेष उड़ानों से पहले से टिकट लेने वालों को नहीं भेजा जाना था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading