कुलभूषण जाधव को लाहौर से बाहर अज्ञात जगह ले जाया गया: खुफिया सूत्र

पाक जाधव को काउंसलर एक्सेस देने की तैयारी कर रहा है. लेकिन इससे पहले उन्हें लाहौर से बाहर किसी स्थान पर भेज दिया है. जाधव को किसी ऐसी सब जेल में रखा जा सकता है, जहां लाहौर से बेहतर हालात हों जिससे पाक ये दिखावा कर सके कि उसने जाधव को अच्छी सुविधाएं मुहैया कराई हैं.

Shailendra Wangu
Updated: July 26, 2019, 1:23 PM IST
कुलभूषण जाधव को लाहौर से बाहर अज्ञात जगह ले जाया गया: खुफिया सूत्र
जाधव को लाहौर से बाहर अज्ञात जगह ले जाया गया
Shailendra Wangu
Updated: July 26, 2019, 1:23 PM IST
कुलभूषण जाधव मामले में ICJ के फैसले के बाद पाकिस्तान को आखिर झुकना ही पड़ा और अब पाकिस्तान कुलभूषण जाधव की काउंसलर एक्सेस देने की तैयारी कर रहा है. लेकिन खुफिया सूत्रों ने न्यूज़18 को बताया है कि पाकिस्तान की एजेंसियों ने जाधव को लाहौर से बाहर किसी अज्ञात स्थान पर भेज दिया है. इससे पहले उन्हें लाहौर में किसी सुरक्षित स्थान पर रखा गया था. ICJ का फैसला 17 जुलाई को आया था और 19 जुलाई को जाधव को लाहौर से बाहर भेजने का फैसला लिया गया.

बेहतर हालात का दिखावा
माना जा रहा है कि काउंसलर एक्सेस से पहले कुलभूषण जाधव को किसी सब जेल में रखा जा सकता है, जहां लाहौर से बेहतर हालात हों और पाक इस बात का दिखावा कर सके कि उसने जाधव को अच्छी सुविधाएं मुहैया कराई हैं. वहीं एक्सेस देने से पहले पाक की ये कोशिश भी होगी कि जाधव की सेहत में कुछ सुधार हो सके.

ऐसे हुई थी जाधव से मां और पत्नी की मुलाकात

दिसंबर 2017 में जब पाकिस्तान ने जाधव की मां और पत्नी को उनसे मुलाकात करने की इजाज़त दी थी तब भी जाधव के ज़ख्म छुपाने की कोशिश की गई थी. जाधव और उनके परिवार के बीच कांच की दीवार खड़ी की गई थी. पत्नी और मां का मंगलसूत्र उतरवाया गया. उनकी पत्नी के जूतों को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया, जिसे आज तक नहीं लौटाया गया. इसके बाद इन दोनों को पाक मीडिया से मिलाया गया, इस मुलाकात में पाक मीडिया ने जाधव की मां और पत्नी को खूब परेशान किया.

काउंसलर एक्सेस की शर्तें
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि जाधव को ICJ के फैसले और वियना संधि के मुताबिक जल्द से जल्द काउंसलर एक्सेस मिले. वहीं पाकिस्तान ने भी बताया कि जाधव के काउंसलर एक्सेस की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. हालांकि अभी तक काउंसलर एक्सेस की शर्तों पर भारत को जानकारी नहीं दी है. सूत्रों ने न्यूज़18 को बताया कि काउंसलर एक्सेस पर वियना संधि से परे भारत को कोई शर्त मंज़ूर नहीं होगी.
Loading...

ये भी पढ़ें - दस साल से घर नहीं गए लसित मलिंगा, सिलाई करके जिंदगी बिता रहे मां-बाप

बेगुनाह ने 23 साल जेल में काटे, घर लौटा तो परिवार में हर किसी की हो चुकी थी मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2019, 12:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...