होम /न्यूज /दुनिया /इमरान खान के खिलाफ ऑडियो लीक मामले में होगी कानूनी कार्रवाई, जा सकते हैं जेल!

इमरान खान के खिलाफ ऑडियो लीक मामले में होगी कानूनी कार्रवाई, जा सकते हैं जेल!

इमरान खान की लीक ऑडियो ने बढ़ाई पूर्व PM की मुश्किलें.

इमरान खान की लीक ऑडियो ने बढ़ाई पूर्व PM की मुश्किलें.

Imran Khan Audio Leak: लीक हुए इस ऑडियो में खान अपनी सरकार को गिराने की कथित साजिश के बारे में भी बात कर रहे थे. ऑडियो ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

ऑडियो लीक मामले में सरकार ने इमरान खान के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू करने का किया फैसला
ऑडियो लीक को लेकर गठित की गई समिति ने की थी कानूनी कार्रवाई की सिफारिश
कैबिनेट समिति ने कहा कि यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है जिसपर कार्यवाई जरुरी है

इस्लामाबाद. पाकिस्तान की कैबिनेट ने ऑडियो लीक मामले को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान और उनकी पार्टी के शीर्ष नेताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू करने का रविवार को फैसला किया है. हाल में लीक हुए ऑडियो में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के तीन नेताओं को पार्टी के अध्यक्ष इमरान खान के साथ अमेरिकी साइफर के बारे में बात करते हुए सुना जा सकता है.

इसके अनुसार, लीक हुए इस ऑडियो में खान अपनी सरकार को गिराने की कथित साजिश के बारे में भी बात कर रहे थे. ऑडियो लीक का संज्ञान लेते हुए कैबिनेट ने 30 सितंबर को एक समिति का गठन किया था. समिति ने इस ऑडियो लीक को लेकर कानूनी कार्रवाई की सिफारिश की है.

वहीं ‘जियो न्यूज’ की खबर के अनुसार कैबिनेट समिति ने कानूनी कार्रवाई की सिफारिश करते हुए कहा कि ऑडियो लीक मामला एक राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है, जिसका राष्ट्रीय हितों पर गंभीर प्रभाव पड़ता है और इस संबंध में कानूनी कार्रवाई महत्वपूर्ण है. इस बाबत संघीय जांच एजेंसी को अमेरिकी साइबर और ऑडियो लीक की जांच का काम सौंपा जाएगा.

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने अपनी प्रतिक्रिया में उनकी पार्टी के रुख का समर्थन किया कि साइफर वास्तविक था और पूर्व PM इमरान खान की सरकार को गिराने का कारण बना.

उन्होंने कहा, ‘‘हमने कभी ऐसा कदम नहीं उठाया जिससे पाकिस्तान के हितों को ठेस पहुंचे. हमने गरिमा के साथ इस देश की सेवा की और आगे भी करते रहेंगे.’’ इस बीच, पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) की नेता मरियम नवाज शरीफ ने शनिवार को प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली सरकार के प्रति असंतोष व्यक्त किया और कहा कि इतने सारे आरोप होने के बावजूद सरकार खान को गिरफ्तार करने में विफल रही है.

उन्होंने खान के बानी गाला स्थित आवास पर छापेमारी करने की मांग की. वित्त मंत्री इसहाक डार ने कहा कि खान ‘सत्ता के भूखे’ हैं और किसी भी कीमत पर देश पर शासन करना चाहते हैं.

Tags: Imran khan

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें