चीन से घबराए इमरान, PAK ने 13 दिन में ही PUBG से प्रतिबंध हटाया

चीन से घबराए इमरान, PAK ने 13 दिन में ही PUBG से प्रतिबंध हटाया
इमरान सरकार ने पबजी पर लगाया बैन हटाया

इमरान खान (Imran Khan) सरकार को एक बार फिर झुकना पड़ा है. सिर्फ 13 दिनों के भीतर ही इमरान खान सरकार ने ऑनलाइन मल्टीप्लेयर गेम पबजी (PUBG) पर लगे प्रतिबंध को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 31, 2020, 10:08 AM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. चीन (China) के बढ़ते दबाव के सामने इमरान खान (Imran Khan) सरकार को एक बार फिर झुकना पड़ा है. सिर्फ 13 दिनों के भीतर ही इमरान खान सरकार ने ऑनलाइन मल्टीप्लेयर गेम पबजी (PUBG) पर लगे प्रतिबंध को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है. 17 जुलाई को पाक सरकार ने इस गेम को इस्लाम विरोधी बताते हुए बैन कर दिया था लेकिन अब कहा गया है कि कंपनी की तरफ से भरोसा दिलाया गया है जिससे सरकार आश्वस्त है.

बता दें कि पाकिस्तान दूरसंचार प्राधिकरण (पीटीए) ने गुरुवार को प्रॉक्सिमा बीटा (पीबी) कंपनी से गेमिंग प्लेटफॉर्म के दुरुपयोग को रोकने के आश्वासन के बाद PUBG से प्रतिबंध हटाने का फैसला किया है. ऐसा माना जा रहा है कि भारत और कई अन्य देशों में पहले ही चीनी कंपनियां बैन और कई अन्य तरह के प्रतिबंध झेल रहीं हैं ऐसे में करीबी पार्टनर पाकिस्तान के पबजी बैन करने से गलत संदेश जा रहा था. पबजी की पैरेंट कंपनी प्रॉक्सिमा बीटा (पीबी) के प्रतिनिधियों ने गेमिंग प्लेटफॉर्म के दुरुपयोग को रोकने के लिए उठाए गए कदमों पर पीटीए ने संतुष्टि जाहिर करते हुए बैन हटाने का आदेश जारी कर दिया है.






कोर्ट में चाहते थे बैन लेकिन चीन के दबाव में बदला रुख
पब्जी बैन करने के लिए पाकिस्तान टेलीकम्यूनिकेशन अथॉरिटी ने ही अदालत में सबूत दिए थे और कहा था कि इस ऑनलाइन गेम की वजह से युवा न सिर्फ मानसिक दबाव में हैं बल्कि इसके कई और भी गंभीर दुष्प्रभाव सामने आए हैं. पीटीए ने कहा था कि इस गेम के दबाव के चलते पाकिस्तान में कई युवाओं की आत्महत्या के मामले भी सामने आए हैं. मंत्रालय ने कोर्ट में दलील दी थी कि पबजी गेम में कुछ दृश्य इस्लाम विरोधी होते हैं जिन्हें पाकिस्तान में इजाजत नहीं दी जा सकती है. हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि पाकिस्तान में युवाओं ने इस बैन का कड़ा विरोध किया था और ट्विटर पर बैन के खिलाफ हैश टैग भी चलाया था.

ये भी पढ़ें: क्या भारत को घेरने के लिए चीन PAK में बना रहा है सैन्य बेस? दिखी सैटेलाइट इमेज

टिकटॉक भी खतरे में
पाकिस्तान में चीन की लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टिकटॉक को बैन करने के लिए भी अर्जी दाखिल की गई है. पाकिस्तान में इसे बैन करने को लेकर धार्मिक कारण दिया गया है. अर्जी में कहा गया है कि टिकटॉक के जरिए इस्लाम विरोधी कंटेंट सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे हैं. उधर इमरान खान की पार्टी तहरीक ए इंसाफ पाकिस्तान को चुनावों में नुकसान का डर भी सता रहा है. पार्टी के सर्वे में सामने आया है कि पबजी और टिकटॉक बैन होना चुनावों में उनके खिलाफ जा सकता है.

पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, पबजी गेम के कारण युवाओं में आत्महत्या के तीन मामले सामने आए हैं. बता दें कि पाकिस्तान सरकार ने 2013 में कॉल ऑफ ड्यूटी और मेडल ऑफ ऑनर को बैन कर दिया था. इन गेम्स को बैन किए जाने को लेकर सरकार ने तर्क दिया था कि इस गेम्स में पाकिस्तान को आतंकियों का ठिकाना दिखाया गया था. वहीं पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और अलकायदा सहित कई आतंकी संगठनों में संबंध भी दिखाया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading