भारतीय हाई कमीशन की इफ्तार पार्टी में ISI की शह पर इन मेहमानों से हुई बदतमीजी, देखें लिस्ट

भारतीय उच्चायुक्त ने शनिवार को इफ्तार पार्टी का आयोजन किया था. वहां जाने के लिए जब मेहमान और अन्य भारतीय राजनयिक पहुंचे, तो सिक्योरिटी गार्ड्स ने उनके साथ बदतमीजी की और दरवाजा बंद कर दिया.

Shailendra Wangu | News18Hindi
Updated: June 3, 2019, 5:33 PM IST
भारतीय हाई कमीशन की इफ्तार पार्टी में ISI की शह पर इन मेहमानों से हुई बदतमीजी, देखें लिस्ट
सांकेतिक तस्वीर
Shailendra Wangu | News18Hindi
Updated: June 3, 2019, 5:33 PM IST
भारत और पाकिस्तान के रिश्ते फिर एक सुर्खियों में हैं. पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग की तरफ से इफ्तार पार्टी आयोजित की गई थी. पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा इस पार्टी में बुलाए गए मेहमानों से बदसलूकी का मामला सामने आया है. पाकिस्तान की इंटेलिजेंस एजेंसी ने कथित तौर पर मेहमानों को धमकाते हुए इफ्तार पार्टी में भाग न लेने का निर्देश दिया था.

इफ्तार पार्टी में कई जाने माने पत्रकार और प्रतिष्ठित लोगों को आमंत्रित किया गया था. इनमें से कुछ नाम हैं- नज्म सेट्ठी- चीफ एडिटर फ्राइडे टाइम्स, सूफी तुफैल- सीनियर वाइस चेयरमैन पाकिस्तान-इंडिया, राशिद रहमान- चीफ एडिटर डेली टाइम्स, सज्जाद अजहर पीरजादा- एनालिस्ट, स्टार एशिया चैनल, सज्जाद खान नियाजी- चीफ एडिटर डेली पाक, जुगनू मोहसिन- एडिटर फ्राइडे टाइम्स, खालिद महमूद खालिद- स्पेशल कॉरस्पॉडेंट, जंग, डॉ. अरशद अहमद, वाइस चांसलर, लाहौर यूनिवर्सिटी.

इंटेलिजेंस एजंसी ने कथित तौर इनके साथ कई अन्य मेहमानों को प्रताड़ित किया उन्हें इफ्तार पार्टी में न जाने की धमकी दी.

भारत ने जताया कड़ा विरोध

भारतीय उच्चायोग ने रविवार को इसे घृणित घटना बतात हुए इसकी तुरंत जांच की मांग की. भारतीय उच्चायोग ने एक बयान में कहा कि मेहमानों को सुरक्षा एजेंसियों के हाथों प्रताड़ना झेलनी पड़ी और उन्हें धमकाया भी गया. उच्चायोग के अनुसार- 'कुछ अधिकारियों के साथ धक्का-मुक्की, गाली गलौज की गई और बुरी तरह से धमकाया गया. कुछ मामलों में तो संबंधित अधिकारियों के मोबाइल फोन छीन लिए गए.'

राजनयिक मानदंडों का पूर्ण उल्लंघन - भारत

भारतीय उच्चायोग ने कहा कि यह राजनयिक मानदंडों का पूर्ण उल्लंघन है. पाकिस्तानी नागरिकों को वहां से जबरन हटाने के लिये सेरेना होटल के बाहर काफी तादाद में पाकिस्तानी सुरक्षा बल थे. इसके अनुसार सांसद, सरकारी अधिकारियों, मीडियाकर्मियों, सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारियों, कारोबारियों और सेवानिवृत्त राजनयिकों समेत 300 से अधिक पाकिस्तानी मेहमानों को कार्यक्रम में शरीक होने से रोका गया.
Loading...

क्या है पूरा मामला?

भारतीय उच्चायुक्त ने शनिवार को इफ्तार पार्टी का आयोजन किया था. वहां जाने के लिए जब मेहमान और अन्य भारतीय राजनयिक पहुंचे, तो सिक्योरिटी गार्ड्स ने उनके साथ बदतमीजी की और दरवाजा बंद कर दिया. भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया की ओर से आयोजित इफ्तार पार्टी में पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी, प्रधानमंत्री इमरान खान और अन्य राजनीतिक लोगों को निमंत्रण भेजा गया था. हालांकि, अल्वी और खान, भारतीय उच्चायुक्त के निमंत्रण पर पार्टी में नहीं पहुंचें.

ये भी पढ़ें: इफ्तार पार्टी में मेहमानों से बदसलूकी पर भारत ने कहा- पाकिस्तान ने लांघी सभी सीमाएं

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 3, 2019, 4:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...