सिख श्रद्धालुओं को पाकिस्तान में गुरुद्वारे जाने से रोकने की बात 'आधारहीन': पाक

भारत ने पाकिस्तान की रवैये की कड़ी निंदा करते हुए कहा था कि पाक ने भारतीय सिख तीर्थयात्रियों को भारतीय राजनयिकों से मिलने नहीं दिया और साथ ही प्रमुख गुरुद्वारे जाने से भी रोका, लेकिन पाकिस्तान अब इन आरोपों को आधारहीन बता रहा है.

भाषा
Updated: April 17, 2018, 12:36 PM IST
सिख श्रद्धालुओं को पाकिस्तान में गुरुद्वारे जाने से रोकने की बात 'आधारहीन': पाक
प्रतीकात्मक चित्र
भाषा
Updated: April 17, 2018, 12:36 PM IST
पाकिस्तान ने तीर्थ यात्रा पर आए सिख श्रद्धालुओं को भारतीय राजनयिकों से नहीं मिलने देने के आरोपों को ‘आधारहीन’ बताते हुए खारिज कर दिया है.

विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि ‘यह बहुत खेदजनक है कि इस मामले के तथ्यों को पूरी तरह से तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया है, और गलत तरीके से पेश किया गया है. ’

भारत ने भारतीय राजनयिकों को तीर्थयात्रा पर आए सिख  श्रद्धालुओं से नहीं मिलने देने और यहां के एक प्रमुख गुरुद्वारा जा रहे भारतीय उच्चायुक्त को रास्ते से ही लौट जाने के लिए बाध्य करने पर पाकिस्तान के समक्ष कड़ी आपत्ति जाहिर की थी.

गौरतलब है कि सिख तीर्थयात्री पंजाब प्रांत के ननकाना साहिब में सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 549 वीं जयंती में हिस्सा लेने वहां गए थे. पाकिस्तान में सिख  यात्रियों के 10 दिन के प्रवास के दौरान तीर्थयात्रियों ने गुरुद्वारा जन्मस्थान ननकाना साहिब, गुरुद्वारा पंजा साहिब हसन अब्दल और गुरुद्वारा करतार साहिब नारोवाल की यात्रा की.

ये भी पढ़ें:

पाक से 2300 से अधिक सिख तीर्थयात्री भारत के लिये रवाना
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. World News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर