लाइव टीवी

करतारपुर कॉरिडोर: पाकिस्तान ने बनाए 80 इमीग्रेशन काउंटर, हर रोज जा सकेंगे 5,000 भारतीय श्रद्धालु

News18Hindi
Updated: October 28, 2019, 4:44 PM IST
करतारपुर कॉरिडोर: पाकिस्तान ने बनाए 80 इमीग्रेशन काउंटर, हर रोज जा सकेंगे 5,000 भारतीय श्रद्धालु
करतारपुर कॉरिडोर में पाकिस्तान ने बनाए 80 इमीग्रेशन काउंटर

रिपोर्ट के मुताबिक, कॉरिडोर (Kartarpur corridor) में यात्रा के संचालन के लिए पाकिस्तान (Pakistan) गृह मंत्रालय ने दो सहायक निदेशक और एक उपनिदेशक सहित 169 निरीक्षक, उप निरीक्षक, कांस्टेबल तथा महिला कांस्टेबल नियुक्त किए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2019, 4:44 PM IST
  • Share this:
लाहौर. पाकिस्तान (Pakistan) ने गुरुद्वारा दरबार साहिब आने के इच्छुक श्रद्धालुओं को बिना वीजा प्रवेश की मंजूरी देने के लिए करतारपुर गलियारे (Kartarpur corridor) में 80 इमीग्रेशन (आव्रजन) काउंटर बनाए हैं. इन काउंटर्स पर भारत से पाकिस्तान आने वाले श्रद्धालुओं को क्लीयरेंस मिला करेगा. भारत (India) और पाकिस्तान ने पिछले सप्ताह करतारपुर कॉरिडोर के संबंध में एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. जिससे भारतीय श्रद्धालु बिना वीजा के गुरुद्वारा दरबार साहिब आ सकेंगे.

इस समझौते के तहत भारत (India) से प्रतिदिन पांच हजार तीर्थयात्री यहां आ सकेंगे. ‘एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ के अनुसार पाकिस्तान (Pakistan) के गृह मंत्रालय ने भारत से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए तीन प्रवेश द्वार बनाए हैं. वहीं लौटने के लिए एक निर्दिष्ट मार्ग होगा.

रिपोर्ट के अनुसार संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) भारतीय सीमा बल को श्रद्धालुओं की यात्रा के 10 दिन पहले मंजूर की गई सूची सौपेंगी. इन तीर्थयात्रियों को गुरुद्वारा दरबार साहिब ले जाए जाने से पहले इनका पासपोर्ट स्कैन किया जाएगा.

ब्लैक लिस्ट में पाए जाने पर नहीं दी जाएगी अनुमति

यदि किसी श्रद्धालु का पासपोर्ट ब्लैक लिस्ट में पाया गया तो उसे आने की अनुमति नहीं दी जाएगी. रिपोर्ट के अनुसार गलियारे में यात्रा के संचालन के लिए पाकिस्तानी गृह मंत्रालय ने दो सहायक निदेशक और एक उपनिदेशक सहित 169 निरीक्षक, उप निरीक्षक, कांस्टेबल और महिला कांस्टेबल नियुक्त किए हैं.

प्रत्येक तीर्थयात्री से लिए जाएंगे 20 डॉलर
इसमें कहा गया है कि पाकिस्तानी रेंजर जीरो प्वाइंट पर पहुंचने के बाद प्रत्येक तीर्थयात्री से 20 डॉलर लेंगे. मंजूरी प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए 80 आव्रजन काउंटर बनाने के अलावा तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए दरबार साहिब से चार किलोमीटर दूर जीरो प्वाइंट पर एक आव्रजन कक्ष बनाया गया है.
Loading...

बता दें कि गुरुद्वारा दरबार साहिब में सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव ने अपने जीवन के अंतिम 18 वर्ष बिताए थे. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान गुरु नानक देव की 550वीं जयंती पर करतारपुर गुरुद्वारे का उद्घाटन करेंगे.

यह भी पढ़ें-

इमरान को आई अक्ल! कहा- कश्मीर में जेहाद भड़काने से होगा खुद का नुकसान
नवाज शरीफ की हालत नाजुक, 25 हजार पर पहुंचा प्लेटलेट्स, सांस लेने में भी दिक्कत
कचरे से निकालकर सुई लगाता था डॉक्टर! 900 बच्चों को हुआ HIV

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 28, 2019, 3:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...