पाकिस्तान में महिलाओं ने फिर निकाला औरत मार्च, कहा- 6 फुट की दूरी, मगर इंकलाब जरूरी

औरत मार्च नाम से आयोजित इन रैलियों का आयोजन कराची, लाहौर, इस्लामाबाद और कई अन्य शहरों में किया गया.

औरत मार्च नाम से आयोजित इन रैलियों का आयोजन कराची, लाहौर, इस्लामाबाद और कई अन्य शहरों में किया गया.

Pakistan Aurat March: कराची में 'औरत मार्च' के दौरान बड़ी संख्या में महिलाएं सड़कों पर उतरीं. उन्होंने कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के मद्देनजर सभी प्रतिबंधों का ख्याल रखते हुए औरत धरना दिया.

  • Share this:
इस्लामाबाद. दुनियाभर में 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women's Day) मनाया गया. वहीं, पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान (Pakistan) में इस मौके पर रैलियां निकाली गईं. इस दौरान पाकिस्तान में महिलाओं ने अपने खिलाफ होने वाले अत्याचारों को लेकर 'औरत मार्च' किया और सरकार के विरोध में नारेबाजी की. औरत मार्च नाम से आयोजित इन रैलियों का आयोजन कराची, लाहौर, इस्लामाबाद और कई अन्य शहरों में किया गया. इसमें महिलाओं ने अपनी आजादी से जुड़ी तमाम मांगें रखीं.

कराची में 'औरत मार्च' के दौरान बड़ी संख्या में महिलाएं सड़कों पर उतरीं. उन्होंने कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के मद्देनजर सभी प्रतिबंधों का ख्याल रखते हुए औरत धरना दिया. इस दौरान 'औरत मार्च कराची' ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, 'छह फुट की दूरी, मगर इंकलाब जरूरी.' महिलाओं ने ‘कम उम्र की शादियां रोकें’’, ‘‘समानता महत्वपूर्ण है, प्रताड़ना नहीं" जैसे संदेशों के साथ तख्तियां ले रखी थीं. इन महिलाओं ने अपने अधिकारों के समर्थन में नारे लगाए.

पाकिस्‍तान में तैनात चीनी राजनयिक के ट्वीट पर बवाल, कहा- अपना हिजाब उठाओ...

पाकिस्तान के लाहौर शहर में महिलाओं ने लाहौर प्रेस क्लब से लेकर 'पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइन्स' की बिल्डिंग तक मार्च किया. इस दौरान प्रदर्शनों में हिस्सा लेने के लिए विकलांग और बुजुर्ग महिलाओं के लिए एक निर्धारित एंट्री प्वाइंट बनाया गया था. महिलाओं ने लाहौर में हुए प्रदर्शन में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया.
Youtube Video


पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने विदेश कार्यालय द्वारा जारी अपने संदेश में कहा कि पाकिस्तान इस वर्ष के अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के विषय का पूरा समर्थन करता है.

उन्होंने कहा, ‘‘आज, हम अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ शामिल हैं. यह महिलाओं को सशक्त बनाने में की गई प्रगति का जश्न मनाने का अवसर है. महिलाओं के अधिकारों के प्रति सम्मान बढ़ाने के प्रयासों के लिए हमारे सामूहिक संकल्प की पुष्टि भी करता है.’’पाकिस्तान: हिंदू परिवार के 5 लोगों की हत्या, चाकू और कुल्हाड़ी से किया हमलापाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अपने संदेश में देश की शान के लिए पाकिस्तानी महिलाओं के योगदान पर प्रकाश डाला. सूचना मंत्री शिबली फ़राज़ ने कहा कि संविधान महिलाओं के अधिकारों का गारंटीकर्ता है और उन्होंने देश के निर्माण और प्रगति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.



पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज नेता मरियम नवाज ने कहा कि महिला सशक्तीकरण देश की प्रगति के लिए महत्वपूर्ण है. (एजेंसी इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज