लाइव टीवी

पाकिस्तानी यूनिवर्सिटी का बेतुका फरमान, लड़के-लड़कियां अलग क्‍लास में बैठें, ब्रेक पर भी रोक

News18Hindi
Updated: September 16, 2019, 9:34 AM IST
पाकिस्तानी यूनिवर्सिटी का बेतुका फरमान, लड़के-लड़कियां अलग क्‍लास में बैठें, ब्रेक पर भी रोक
विश्वविद्यालय ने कक्षाओं के बीच छात्रों को दिए जाने वाले ब्रेक को भी बंद करने का फैसला किया है.

पाकिस्‍तान में बहरिया विश्वविद्यालय (Bahria University) ने अपने छात्र-छात्राओं के लिए बेतुका आदेश जारी किया है. भेदभाव से भरे इस फैसले के अनुसार, छात्र और छात्राओं को अब एक ही क्‍लास की बजाए अलग अलग बैठना होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 16, 2019, 9:34 AM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) के बहरिया विश्वविद्यालय (Bahria University) ने अपने छात्र-छात्राओं के लिए बेतुका आदेश जारी किया है. भेदभाव से भरे इस फैसले के अनुसार, छात्र और छात्राओं को अब एक ही क्‍लास की बजाए अलग अलग बैठना होगा. इस आदेश में कहा गया है कि छात्र और छात्राएं एक साथ कोई प्रोजेक्‍ट पर काम नहीं कर सकेंगे. हालांकि विश्‍वविद्यालय के इस फैसले के बाद इसका विरोध भी शुरू हो गया है. सोशल मीडिया पर लोग इस फैसले के लिए यूनिवर्सिटी प्रशासन की आलोचना कर रहे हैं.

‘जियो न्यूज’ की खबर के अनुसार बहरिया विश्वविद्यालय (Bahria University) ने रजिस्ट्रार द्वारा जारी एक अधिसूचना में विश्वविद्यालय के अधिकारियों को छात्र एवं छात्राओं के अवकाश यात्राओं के लिए भी अलग-अलग व्यवस्था करने और छात्र-छात्राओं के एकसाथ शैक्षिक कार्य समूह नहीं बनाने का भी निर्देश दिया है.



इस अजीबो-गरीब अधिसूचना में विश्वविद्यालय प्रशासन को छात्रों का विश्वविद्यालय की एक इमारत से दूसरे इमारत तक आना-जाना भी कम करने को कहा गया है. विश्वविद्यालय ने कक्षाओं के बीच छात्रों को दिए जाने वाले विराम को भी बंद करने का फैसला किया है.
Loading...

खबर में कहा गया कि यह तत्काल स्पष्ट नहीं हो सका कि यह अधिसचूना देश में बहरिया विश्वविद्यालय के सभी परिसरों पर लागू होगी या यह शहर के केवल एक परिसर तक सीमित है.

लाहौर की यूनिवर्सिटी भी आई थी विवादों में
इससे पहले लाहौर में यूनिवर्सिटी ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्‍नोलॉजी भी तब विवादों में आई थी, जब उसने लड़के और लड़कियों को अलग अलग बैठने के लिए कहा. इस यूनिवर्सिटी के कैफेटेरिया में छात्र और छात्राओं को अलग अलग बैठने के निर्देश दिए गए थे. हालांकि जब इस फैसले की आलोचना शुरू हुई तो यूनिवर्सिटी ने इसे वापस ले लिया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 16, 2019, 8:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...