Home /News /world /

पाकिस्तान: PM इमरान और कैबिनेट की कोर्ट में लगी क्लास, इस अपराध के लिए बताया जिम्मेदार, जानें पूरा मामला

पाकिस्तान: PM इमरान और कैबिनेट की कोर्ट में लगी क्लास, इस अपराध के लिए बताया जिम्मेदार, जानें पूरा मामला

पाकिस्‍तान की कोर्ट ने सरकार को फटकार लगाई है. (प्रतीकात्मक)

पाकिस्‍तान की कोर्ट ने सरकार को फटकार लगाई है. (प्रतीकात्मक)

पाकिस्तान (Pakistan) की एक अदालत ने बुधवार को फैसला दिया कि देश में लापता किसी भी व्यक्ति के लिए जिम्मेदार प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) और उनकी कैबिनेट है. इसने लापता लोगों की बरामदगी में सरकार की प्रतिक्रिया को ‘दयनीय’ बताया. इस्लामाबाद (Islamabad) उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश अमहर मीनल्ला ने पत्रकार मुदस्सर महमूद नारो के बारे में दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए यह टिप्पणी की. मुख्य न्यायाधीश मीनल्ला ने कहा कि जबरन किसी को गुम करना ‘मानवता के खिलाफ अपराध’ है और इसके लिए सरकार जिम्मेदार है.

अधिक पढ़ें ...

    इस्लामाबाद.  पाकिस्तान (Pakistan) की एक अदालत ने बुधवार को फैसला दिया कि देश में लापता किसी भी व्यक्ति के लिए जिम्मेदार प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) और उनकी कैबिनेट है. इसने लापता लोगों की बरामदगी में सरकार की प्रतिक्रिया को ‘दयनीय’ बताया. इस्लामाबाद (Islamabad) उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश अमहर मीनल्ला ने पत्रकार मुदस्सर महमूद नारो के बारे में दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए यह टिप्पणी की. नारो अगस्त 2018 से लापता हैं. उनके पिता महमूद इकराम ने याचिका दायर की है.

    मुख्य न्यायाधीश मीनल्ला ने कहा कि जबरन किसी को गुम करना ‘मानवता के खिलाफ अपराध’ है और इसके लिए सरकार जिम्मेदार है. उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री और कैबिनेट के सदस्य देश के लोगों की सेवा करने के लिए हैं. लापता लोगों का पता लगाने में सरकार की प्रतिक्रिया दयनीय है.’ बाद में लिखित आदेश में मुख्य न्यायाधीश मीनल्ला ने कहा कि ‘जबरन गुम किए गए लोगों के मामले में जवाबदेही केंद्र सरकार है यानी प्रधानमंत्री और केंद्रीय कैबिनेट के सदस्यों की.’ अदालत में मानवाधिकार मंत्री शिरीन मजरी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे.

    ये भी पढ़ें :  हाई रिस्क वाले देशों से आई 11 फ्लाइट्स में मिले 6 यात्री संक्रमित: केंद्र

    ये भी पढ़ें :  Gold ज्वेलरी बेचना अब ज्वेलर्स पर पड़ेगा भारी, देश के 256 शहरों में लागू हुआ मोदी सरकार का नया कानून

    पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को भगोड़ा घोषित कर चुकी है सरकार 

    पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) को लंदन में अपने डॉक्टरों से मेडिकल रिपोर्ट पेश न करके जमानत की शर्तों का उल्लंघन करने के मामले में सरकार ने भगोड़ा घोषित कर दिया था.  फरवरी 2020 में आई एक खबर में यह जानकारी दी गई थी. शरीफ (70) इलाज के लिए पिछले साल नवंबर में लंदन रवाना हुए थे. लाहौर उच्च न्यायालय (Lahore High Court) ने मेडिकल आधार पर उन्हें 04 सप्ताह के लिए विदेश जाने की अनुमति दी थी.

    शरीफ के डॉक्टर ने बताया था कि तीन बार प्रधानमंत्री रहे शरीफ को दिल की गंभीर बीमारी है जिसके लिए उनकी सर्जरी होनी है. ‘डॉन’ की खबर के मुताबिक सरकार ने मंगलवार को शरीफ की जमानत अवधि न बढ़ाने और उन्हें इस्लामाबाद उच्च न्यायालय के आदेश पर गठित बोर्ड के समक्ष मेडिकल रिपोर्ट पेश न करके जमानत शर्तों का उल्लंघन करने के लिए भगोड़ा घोषित किया.

    Tags: Islamabad, Pakistan, PM Imran Khan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर