खतरे में पाकिस्‍तान की इमरान सरकार, मरियम लाएंगी अविश्‍वास प्रस्‍ताव

इमरान खान की सरकार पर मंडरा रहा है खतरा. (File pic)

इमरान खान की सरकार पर मंडरा रहा है खतरा. (File pic)

पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran khan) ने बुधवार को सीनेट चुनाव में अपने वित्त मंत्री की हार के बाद संसद में विश्वास मत हासिल करने का फैसला किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 4, 2021, 11:50 AM IST
  • Share this:
इस्‍लामाबाद. पाकिस्‍तान (Pakistan) की इमरान खान (Imran Khan) सरकार पर इन दिनों खतरे के बादल मंडरा रहे हैं. पाकिस्‍तान में हुए सीनेट चुनाव में पूर्व पीएम व पीपीपी के वरिष्‍ठ नेता यूसुफ रजा गिलानी ने इस्‍लामाबाद से जीत दर्ज की है. उन्‍हें 169 वोट हासिल हुए. ऐसे में प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पीटीआई ने इस्‍लामाबाद की सीट को गंवा दिया है. यूसुफ रजा गिलानी ने चुनाव में इमरान खान की सरकार में कैबिनेट मंत्री डॉक्‍टर शेख को हराया है.

वहीं अब पीडीएम की नेता मरियम नवाज ने भी इमरान खान सरकार पर हमला बोला है. साथ ही उन्‍होंने सरकार के खिलाफ अव‍िश्‍वास प्रस्‍ताव लाने का भी ऐलान किया है. अब इसका फैसला 11 राजनीतिक दलों की बैठक में लिया जाएगा. इसके साथ ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को सीनेट चुनाव में अपने वित्त मंत्री की हार के बाद संसद में विश्वास मत हासिल करने का फैसला किया है.

इमरान खान के करीबी सहयोगी और वित्त मंत्री अब्दुल हफीज शेख बुधवार को सीनेट चुनाव में पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी से हार गए. खान पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्यक्ष भी हैं. उन्होंने अपने कैबिनेट सहयोगी की जीत के लिए व्यक्तिगत रूप से प्रयास किया था. पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के वरिष्ठ नेता गिलानी विपक्षी गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) के सर्वसम्मत उम्मीदवार थे. गिलानी की जीत के बाद कई विपक्षी नेताओं ने खान की भारी आलोचना की और मांग की कि उन्हें प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए.

परिणाम घोषित होने के कुछ घंटे बाद विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने विश्वास मत हासिल करने का फैसला किया है. सत्तारूढ़ पार्टी के उपाध्यक्ष कुरैशी ने कहा कि यह निर्णय पार्टी की बैठक में विचार विमर्श के बाद लिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज