लाइव टीवी

गुरु नानक की 550वीं जयंती पर पाकिस्तान ने जारी किया सिक्का, इमरान खान ने शेयर की तस्वीर

News18Hindi
Updated: October 30, 2019, 7:19 PM IST
गुरु नानक की 550वीं जयंती पर पाकिस्तान ने जारी किया सिक्का, इमरान खान ने शेयर की तस्वीर
पाकिस्तान ने गुरु नानक की 550वीं जयंती पर जारी किया सिक्का

पाक प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने कहा, ‘‘पाकिस्तान ने गुरु नानक देवजी की 550वीं जयंती के अवसर पर स्मारक सिक्का जारी किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2019, 7:19 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) ने गुरु नानक देव (Guru Nanak Dev) की 550वीं जयंती के अवसर पर बुधवार को एक स्मारक सिक्का (Coin) जारी किया. इस सिक्के की कीमत पाकिस्तानी करेंसी में 50 रुपये होगी. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने एक फेसबुक पोस्ट में सिक्के की तस्वीर साझा की.

इमरान खान (Imran Khan) ने कहा, ‘‘पाकिस्तान ने गुरु नानक देवजी की 550वीं जयंती के अवसर पर स्मारक सिक्का जारी किया है.’ बता दें कि पाकिस्तानी पीएम इमरान खान 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे, जिससे पहले यह सिक्का जारी किया गया है.



इससे पहले इमरान ने सोमवार को ननकाना साहिब में बाबा गुरु नानक यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखी. वर्ष 2019, सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550वीं जयंती का वर्ष है, जिनका जन्म पाकिस्तान स्थित श्री ननकाना साहिब में हुआ था.

डाक टिकट भी किया जाएगा जारी
शरणार्थी न्यास संपत्ति बोर्ड (ईपीटीबी) के अध्यक्ष डॉ आमिर अहमद ने एक्सप्रेस ट्रिब्यून को बताया कि अगले महीने गुरुद्वारा करतार साहिब आने वाले तीर्थयात्री इन स्मारक सिक्कों को खरीद सकेंगे. इस मौके पर एक आठ रुपये मूल्य का डाक टिकट भी जारी किया जाएगा जिसमें गुरुद्वारा जन्म स्थान का चित्र होगा.

भारत और पाकिस्तान ने पिछले नवंबर में ऐतिहासिक गुरुद्वारा दरबार साहिब को भारत के साथ जोड़ने के लिए करतारपुर गलियारा बनाने पर सहमति जताई थी. इसके तहत पाकिस्तान के कस्बे करतारपुर को पंजाब के गुरुदासपुर जिले में स्थित डेरा बाबा नानक के साथ जोड़ा जाएगा. गुरुद्वारा दरबार साहिब गुरु नानक देवजी का अंतिम विश्राम स्थल है. करतारपुर साहिब रावी नदी के पार पाकिस्तान के नरोवाल जिले में स्थित है और डेरा बाबा नानक से इसकी दूरी लगभग चार किलोमीटर है.
Loading...

5 हजार तीर्थयात्री जा सकेंगे गुरुद्वारा
इस गलियारे के जरिए प्रतिदिन 5,000 भारतीय तीर्थयात्री गुरुद्वारा दरबार साहिब जा सकेंगे, जहां गुरु नानक देव ने अपने जीवन के अंतिम 18 वर्ष बिताए थे.

(इनपुट भाषा के साथ)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 7:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...