• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • अफगान मुद्दे को लेकर अमेरिका जा सकते हैं पाकिस्तानी NSA और ISI चीफ

अफगान मुद्दे को लेकर अमेरिका जा सकते हैं पाकिस्तानी NSA और ISI चीफ

पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद युसूफ (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद युसूफ (फाइल फोटो)

पाकिस्तान (Pakistan) के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद युसूफ और आइएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद जल्द ही अमेरिका (America) की यात्रा कर सकते हैं.

  • Share this:
    इस्लामाबाद. अफगानिस्तान में बिगड़ते हालातों के बीच पाकिस्तान (Pakistan) के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद युसूफ और आइएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद जल्द ही अमेरिका (America) की यात्रा कर सकते हैं. अफगानिस्तान की स्थिति पर पाक के एनएसए और आइएसआइ प्रमुख का अमेरिकी समकक्षों के साथ बातचीत करने की संभावना है. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार युद्धग्रस्त देश यानी अफगानिस्तान में सत्ता का हस्तांतरण मुद्दे को लेकर पाक के ये दो शीर्ष अधिकारी अमेरिका जा सकते हैं.

    पाकिस्तान के डॉन अखबार ने राजनयिक स्रोतों के हवाले से बताया कि अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन की नई दिल्ली और काबुल की यात्राओं में अफगान संकट के लिए एक क्षेत्रीय प्रतिक्रिया तैयार करने के उद्देश्य से किए गए प्रयासों में शामिल हैं. इसमें कहा गया है कि यूसुफ और इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आइएसआइ) के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल हमीद की यात्रा इन राजनयिक प्रयासों का हिस्सा हैं.

    राजनयिक सूत्रों ने शुक्रवार को अखबार को बताया कि अफगानिस्तान में सत्ता का शांतिपूर्ण हस्तांतरण सुनिश्चित करने के उद्देश्य से एक नए अमेरिकी राजनयिक हमले में पाकिस्तान की महत्वपूर्ण भूमिका है. तालिबान के साथ एक समझौते के तहत अमेरिका और उसके नाटो सहयोगियों ने आतंकवादियों द्वारा एक प्रतिबद्धता के बदले में सभी सैनिकों को वापस लेने पर सहमति व्यक्त की कि वे चरमपंथी समूहों को अपने नियंत्रण वाले क्षेत्रों में काम करने से रोकेंगे.

    ये भी पढ़ें: इमरान खान ने फिर छेड़ा कश्मीर राग, बोले- पाकिस्तान के साथ आने या आजाद मुल्क रहने का फैसला खुद करेंगे कश्मीरी

    बता दें कि यूएस सेंट्रल कमांड, जो अफगानिस्तान के प्रभारी हैं ने हाल ही में कहा था कि अफगान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी 95 फीसद से अधिक हो चुकी है. वहीं, राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा भी कहा था कि सैनिकों की वापसी अगस्त के अंत तक पूरी हो जाएगी. वाशिंगटन में हाल ही में एक ब्रीफिंग में अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा था कि बाइडन प्रशासन को उम्मीद है कि अफगानिस्तान के पड़ोसियों को अफगान संघर्ष के लिए एक उचित और टिकाऊ समाधान लाने में एक रचनात्मक और जिम्मेदार भूमिका निभानी होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज