पाकिस्तानी राष्ट्रपति ने संसद में अपने पहले भाषण में कश्मीर राग अलापा

पाकिस्तानी राष्ट्रपति ने संसद में अपने पहले भाषण में कश्मीर राग अलापा
पाकिस्तानी राष्ट्रपति ने संसद में अपने पहले भाषण में कश्मीर राग अलापा (image credit: AP)

पाकिस्तान के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने सोमवार को संसद के संयुक्त सत्र में अपने पहले भाषण में ही कश्मीर का राग अलापते हुए कहा कि कश्मीरी लोगों को आत्म निर्णय का अधिकार हैं.

  • भाषा
  • Last Updated: September 18, 2018, 12:03 AM IST
  • Share this:
पाकिस्तान के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने सोमवार को संसद के संयुक्त सत्र में अपने पहले भाषण में ही कश्मीर का राग अलापते हुए कहा कि कश्मीरी लोगों को आत्म निर्णय का अधिकार हैं. अल्वी ने कहा कि पाकिस्तान पारस्परिक सह-अस्तित्व के आधार पर भारत के साथ शांतिपूर्ण संबंध चाहता है.

उन्होंने कश्मीर के लोगों का समर्थन करने का वादा किया और कहा कि पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों के अनुसार हर स्तर पर मुद्दे के समाधान के लिए प्रयास करेगा. संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए उन्होंने कश्मीरी लोगों को पाकिस्तान के नैतिक, राजनीतिक और राजनयिक समर्थन की बात की.

उन्होंने ज़ोर दिया कि कश्मीर विवाद का समाधान पाकिस्तान और भारत के बीच स्थायी संबंध के लिए आवश्यक है. उन्होंने कहा, 'एक दूसरे पर आरोप लगाने से किसी भी विवाद का समाधान नहीं हो सकता है.'



राष्ट्रपति ने कहा कि कश्मीरी लोगों के आत्म निर्णय के अधिकार को नकारना निंदनीय है और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपनी भूमिका निभाने का आग्रह किया. अल्वी ने कहा कि पाकिस्तान सभी देशों विशेषकर पड़ोसियों और मुस्लिम देशों से अच्छे संबंध चाहता है.



पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज़ के नेतृत्व वाली विपक्षी पार्टियों ने राष्ट्रपति के अपना भाषण शुरू करते ही सदन से बहिर्गमन किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading