लाइव टीवी

भारत का नया नक्शा देख पाकिस्तान को लगी मिर्ची, मैप को मानने से किया इनकार

News18Hindi
Updated: November 3, 2019, 8:22 PM IST
भारत का नया नक्शा देख पाकिस्तान को लगी मिर्ची, मैप को मानने से किया इनकार
भारत के नए नक्शे को पाकिस्तान ने खारिज कर दिया है

भारत (India) के नए नक्शे में पाकिस्तान (Pakistan) के कब्जे वाला कश्मीर (Kashmir) नए बने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) का हिस्सा है, जबकि गिलगित-बाल्टिस्तान लद्दाख क्षेत्र में है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2019, 8:22 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. जम्मू-कश्मीर और लद्दाख (Jammu Kashmir and Ladakh) के अलग केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद भारत ने शनिवार को देश का नया नक्शा जारी किया. भारत के नए नक्शे को देख पाकिस्तान (Pakistan) बौखला गया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने रविवार को बयान जारी कर इस नक्शे को 'गलत' तथा कानूनी रूप से 'अपुष्ट' करार दिया है.

भारत के नए मानचित्र में पूरे कश्मीर क्षेत्र को अपने हिस्से के रूप में दिखाया गया है. नए नक्शों में पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर नए बने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर का हिस्सा है, जबकि गिलगित-बाल्टिस्तान लद्दाख क्षेत्र में है.

नए नक्शे को पाकिस्तान ने किया खारिज
पाकिस्तान विदेश मंत्रालयन ने रविवार को एक बयान में कहा कि नए मानचित्र कानूनी रूप से अपुष्ट और गलत हैं. उसने कहा कि यह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रासंगिक प्रस्तावों के भी पूर्ण खिलाफ है. विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘पाकिस्तान इन राजनीतिक मानचित्रों को खारिज करता है, जो संयुक्त राष्ट्र के नक्शों के अनुरूप नहीं है.’

जम्मू कश्मीर और लद्दाख का नया नक्शा


पाकिस्तान ने कहा कि भारत का कोई भी कदम जम्मू और कश्मीर की ‘विवादित’ स्थिति को नहीं बदल सकता है, जिसे संयुक्त राष्ट्र (यूएन) द्वारा मान्यता प्राप्त है.’

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का दिया हवाला
Loading...

विदेश कार्यालय ने कहा कि पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के अनुसार स्वनिर्णय के अपने अधिकार का प्रयोग करने के लिए भारतीय जम्मू और कश्मीर के लोगों के वैध संघर्ष का समर्थन जारी रखेगा.

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख केंद्रशासित प्रदेशों में होंगे इतने जिले
नए लद्दाख केंद्रशासित प्रदेश में दो जिले हैं, कारगिल और लेह. बचा हुआ हिस्‍सा जम्‍मू कश्‍मीर केंद्र शासित प्रदेश हो गया है. जम्मू और कश्मीर राज्य में भारत की आजादी के वक्त 14 जिले हुआ करते थे. ये जिले थे- जम्मू, कठुआ (Kathua), ऊधमपुर, बारामूला, अनंतनाग, रियासी, मुजफ्फराबाद, मीरपुर, पुंछ, लेह और लद्दाख, गिलगित, चिल्हास, गिलगित वजारत और ट्राइबल टेरिटरी.

वहीं 2019 आते-आते जम्मू-कश्मीर राज्य सरकार ने इन 14 जिलों को पुनर्गठित करते-करते 28 जिले बना दिए थे. जो नए जिले बने उनके नाम थे- कुपवारा, गंडेरबल, बांदीपुरा, बड़गाम, श्रीनगर (Srinagar), कुलगाम, शोपियां, राजौरी, शोपियां, डोडा, किश्तवार, रामबन, कारगिल और साम्बा. इसमें से कारगिल जिले को लेह-लद्दाख जिले से ही अलग किया गया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 5:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...