Home /News /world /

Omicron: पाकिस्तान में मिला 'ओमिक्रॉन' का संदिग्ध, सरकार इन लोगों को देगी वैक्सीन की बूस्टर डोज

Omicron: पाकिस्तान में मिला 'ओमिक्रॉन' का संदिग्ध, सरकार इन लोगों को देगी वैक्सीन की बूस्टर डोज

डॉक्टर्स ने कहा कि ओमिक्रॉन को लेकर किसी भी तरह की कोई चिंता का कारण नहीं है. (फाइल फोटो)

डॉक्टर्स ने कहा कि ओमिक्रॉन को लेकर किसी भी तरह की कोई चिंता का कारण नहीं है. (फाइल फोटो)

Omicron, Omicron Symptoms, Pakistan: जानकारी के अनुसार जो महिला ओमिक्रॉन के संदिग्ध के तौर पर सामने आई है उसका विदेशी यात्रा का कोई भी इतिहास नहीं है. स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि मरीज में वायरस के कोई लक्षण नहीं दिख रहे थे उसे अभी घर पर ही आइसोलेट किया गया है. पेचुहो ने कहा कि ओमिक्रॉन कोविड के दूसरे वेरिएंट के मुकाबले अधिक संक्रामक है लेकिन अभी तक इस वायरस से कोई गंभीर मामला या फिर मृत्यु की घटना सामने नहीं आई है.

अधिक पढ़ें ...

    कराची: दुनिया भर में कोविड के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Covid19 Omicron) की दहशत के बीच अब पाकिस्तान (Pakistan) में भी इसकी एंट्री हो चुकी है. गुरुवार को पाकिस्तान के सिंध प्रांत से ओमिक्रॉन (Omicron Update) के पहले संदिग्ध की सूचना मिली. सिंध प्रांत की स्वास्थ्य मंत्री डॉ. अजरा फजल पेचुहो ने गुरुवार को कहा कि कोविड से ग्रसित (Covid Infected) एक महिला में ओमिक्रॉन के लक्षण दिखाई दे रहे हैं. हालांकि अभी पूरी तरह से यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि मरीज ओमिक्रॉन (Omicron in Pakistan) से इंफेक्टेड है या नहीं. डॉक्टर्स ने उसके सैंपल को जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा है.

    डॉ. अजरा फजल ने कहा कि अभी सैंपल की जांच की जा रही है और रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्ट हो पाएगा कि मरीज ओमिक्रॉन से ग्रसित है या नहीं. उन्होंने कहा कि रोगी जिस तरह से व्यवहार कर रहा है उससे यह प्रतीत होता है कि यह ओमिक्रॉन है. डॉक्टर्स और मीडिया रिपोर्ट में ओमिक्रॉन संदिग्ध महिला की उम्र अलग-अलग बताई गई है. डॉक्टर्स महिला रोगी को 57 वर्ष की बता रहे हैं जबकि वहीं मीडिया रिपोर्ट में कहा गया कि जो महिला इलाज के लिए गई थी वह 65 वर्ष की है.

    महिला ने नहीं की कोई विदेशी यात्रा
    जानकारी के अनुसार जो मिहला ओमिक्रॉन के संदिग्ध के तौर पर सामने आई है उसका विदेशी यात्रा का कोई भी इतिहास नहीं है. स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि मरीज में वायरस के कोई लक्षण नहीं दिख रहे थे उसे अभी घर पर ही आइसोलेट किया गया है. पेचुहो ने कहा कि ओमिक्रॉन कोविड के दूसरे वेरिएंट के मुकाबले अधिक संक्रामक है लेकिन अभी तक इस वायरस से कोई गंभीर मामला या फिर मृत्य की घटना सामने नहीं आई है.

    जीनोम सिक्वेंसिंग में लगेगा दो सप्ताह
    डॉक्टर्स ने कहा कि ओमिक्रॉन को लेकर किसी भी तरह की कोई चिंता का कारण नहीं है लेकिन ऐहतियात बरतना जरूरी है. उन्होंने कहा कि मरीज के सैंपल को जीनोमिक अध्ययन के लिए भेजा है जिसमें एक से दो सप्ताह का समय लगेगा. इसकी रिपोर्ट के बाद ही यह साफ हो पाएगा की महिला ओमिक्रॉन से संक्रमित थी या नहीं. उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादी दुर्भाग्य की बात यह है कि महिला को कोविड के टीके नहीं लगे थे.

    डॉ. अजरा फजल पेचुहो ने कहा कि मैं लोगों से अपील करती हूं कि कोविड के टीके लगवाएं और जिसने दोनों टीके लगवा लिए हैं वो वैक्सीन की बूस्टर डोज ले. इससे आपकी रक्षा हो सकती है. उन्होंने कहा कि इस महीने की शुरुआत में नेशनल कमांड एंड ऑपरेशंस सेंटर (एनसीओसी) की बैठक में यह फैसला लिया गया था कि इम्यून कंप्रोमाइज्ड, स्वास्थ्य कर्मियों और 50 साल से अधिक उम्र के लोगों को बूस्टर शॉट्स लगाए जाएंगे.

    Tags: Covid19, Omicron, Omicron Alert, Pakistan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर