Home /News /world /

शाह की सर्जिकल एयरस्ट्राइक की धमकी से डरा पाकिस्तान, बोला-हम शांतिप्रिय देश हैं

शाह की सर्जिकल एयरस्ट्राइक की धमकी से डरा पाकिस्तान, बोला-हम शांतिप्रिय देश हैं

शाह ने गोवा के पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को याद किया.

शाह ने गोवा के पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को याद किया.

भारत के पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) को याद करते हुए शाह ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक भारत की रक्षा में एक नया अध्याय था. हमने संदेश दिया कि कोई भी भारत की सीमाओं पर हरकत नहीं कर सकता है. बातचीत का समय था, लेकिन अब जवाब देने का समय आ गया है.’

अधिक पढ़ें ...

    इस्लामाबाद. एक दिन पहले गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा था कि अगर पाकिस्तान (Pakistan) अपनी हरकतों से बाज नहीं आया तो भारत उस पर एक और सर्जिकल एयरस्ट्राइक (Surgical Strike)करता है. इस पर पाकिस्तान ने कहा है कि पाकिस्तान एक शांतिप्रिय देश है, लेकिन अगर भारत कोई भी आक्रामक कार्रवाई करता है तो उसे नाकाम कर देंगे. गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री और भारत के पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) को याद करते हुए शाह ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक भारत की रक्षा में एक नया अध्याय था. हमने संदेश दिया कि कोई भी भारत की सीमाओं पर हरकत नहीं कर सकता है. बातचीत का समय था, लेकिन अब जवाब देने का समय आ गया है.’

    क्या बोला पाक विदेश मंत्रालय?
    इस बयान के बाद पाकिस्तान ने कहा, ‘अमित शाह का बयान अधिक सर्जिकल स्ट्राइक के लिए चेतावनी देने वाला है. ये गैर-जिम्मेदार और उत्तेजक है. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय कहा, ‘उनका भ्रमपूर्ण बयान केवल भाजपा-आरएसएस गठबंधन के वैचारिक कारणों और राजनीतिक लाभ दोनों के लिए क्षेत्रीय तनाव को भड़काने की प्रवृत्ति को दिखाता है, जो पाकिस्तान के प्रति शत्रुता पर आधारित है.’ इसने कहा, ‘जबकि पाकिस्तान एक शांतिप्रिय देश है. हम किसी भी आक्रामक मंसूबे को पूरी तरह विफल करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.’

    पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने कहा कि 2019 में भारत के बालाकोट दुस्साहस को पाकिस्तान ने तेजी से रिस्पॉन्स दिया. इसमें भारतीय लड़ाकू विमान को गिराना और भारतीय वायुसेना के पायलट को पकड़ना शामिल है. ये भारतीय आक्रमण को रोकने के लिए हमारे सशस्त्र बलों की इच्छा, क्षमता और तैयारियों को पूरी तरह से दिखाता है.

    गृह मंत्री अमित शाह का ये बयान और पाकिस्तान का इस पर जवाब ऐसे समय पर आया है, जब जम्मू-कश्मीर में नागरिकों की हत्या की घटनाओं में इजाफा हो रहा है. शाह 23 अक्टूबर से 25 अक्टूबर के बीच जम्मू-कश्मीर का दौरा करेंगे, अगस्त 2019 में अनुच्छेद 370 को खत्म करने के बाद उनकी पहली यात्रा है. गौरतलब है कि अनुच्छेद 370 के हटने के बाद से ही पाकिस्तान को अधिक मिर्ची लगी हुई है. यही वजह है कि पाकिस्तानी नेता भारत के खिलाफ आए दिन जहर भी उगलते रहते हैं.

    Tags: India pakistan, Pulwama attack, Terrorist, World news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर