फंड ना मिलने पर नाराज सिंध प्रांत के CM बोले- पीएम इमरान से कुछ कहना किसी बहरे से बात करने जैसा

सिंध प्रांत के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह (फाइल फोटो)

सिंध प्रांत के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह (फाइल फोटो)

सिंध प्रांत के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह (CM Murad Ali Shah) ने कहा कि वित्त विभाग ने पंजाब क्षेत्र के लिए कई नई योजनाओं (New Projects) का ऐलान इस साल किया, जिसमें 10 खैबर-पख्तूनख्वा के लिए, 29 ब्लूचिस्तान के लिए और सिर्फ 2 सिंध के लिए हैं. यह प्रांत देश को 70 प्रतिशत रेवन्यू देता है, लेकिन उसकी अनदेखी की गई.

  • Share this:

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में सिंध प्रांत के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह (CM Murad Ali Shah) ने प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) पर जमकर निशाना साधा है. मुराद अली शाह का कहना है कि पीएम इमरान खान से बातचीत करना किसी बहरे से बात करने के समान है. दरसअल, मुख्यमंत्री सिंध प्रांत में विकास योजनाओं में हो रही देरी से नाराज हैं. इसी को लेकर उन्होंने कहा कि PM से बातचीत करना या उन्हें लिखना किसी बहरे से बातचीत करने के समान है.

राष्ट्रीय इकोनॉमिक कमेटी के साथ मंगलवार को एक बैठक में मुराद अली शाह ने कहा कि उन्हें सिंध प्रांत की विकास योजनाओं में हो रही देरी की चिंता है. उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री इमरान खान को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा, ‘हमने प्रधानमंत्री से कहा कि वो हमें सड़कों के निर्माण के लिए पैसे दें और हम वादा करते हैं कि हम एक साल में विकास कर के दिखा देंगे, लेकिन उन्होंने नहीं दिया’.

सिंध के नागरिकों की अनदेखी का आरोप

मुख्यमंत्री शाह ने कहा कि वित्त विभाग ने पंजाब क्षेत्र के लिए कई नई स्कीम का ऐलान इस साल किया. जिसमें 10 खैबर-पख्तूनख्वा के लिए, 29 ब्लूचिस्तान के लिए और सिर्फ 2 सिंध के लिए हैं. यह प्रांत देश को 70 प्रतिशत रेवन्यू देता है, लेकिन उसकी अनदेखी की गई. शाह ने बताया कि नेशनल हाइवे अथॉरिटी ने सिर्फ 7 बिलियन ही सिंध के डेवलपमेंट प्रोजेक्ट को दिए हैं. CM ने इस संबंध में इमरान खान को पत्र लिखकर सिंध के नागरिकों की अनदेखी का आरोप लगाया है.
ये भी पढ़ें: इमरान खान की पार्टी की महिला नेता ने लाइव टीवी शो में सांसद को मारा थप्पड़, Video वायरल

बहरिया टाउन प्रोटेस्ट पर बोले मुराद

वहीं, बहरिया टाउन में चल रहे प्रदर्शन पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए CM ने कहा कि सिंध प्रांत ने जितनी भी जमीन खरीदी है सभी पर निर्माण कार्य की अनुमति दे दी गई है. उन्होंने कहा, ‘एक शांतिपूर्ण प्रदर्शन वहां चल रहा है और प्रदर्शनकारियों को हिंसा ना करने और सड़क जाम ना करने के बारे में कह दिया गया है’. बता दें कि इससे पहले यहां काफी हिंसात्मक प्रदर्शन हुआ था. प्रदर्शनकारियों ने कई गाड़ियों, शोरूम और दो कार्यालयों में आग लगा दी थी, जिसके बाद पुलिस को आंसू गैस के गोले भी छोड़ने पड़े थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज