टेक्नोलॉजी के जरिए COVID-19 हॉटस्पॉट की पहचान करेगा पाक और लगाएगा 'स्मार्ट लॉकडाउन'

टेक्नोलॉजी के जरिए COVID-19 हॉटस्पॉट की पहचान करेगा पाक और लगाएगा 'स्मार्ट लॉकडाउन'
पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों का उत्पीड़न जारी है (सांकेतिक फोटो)

पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले पाकिस्तान में बढ़कर 30330 हो चुकी है. पाकिस्तान ने हाल ही में अपने एक महीने लंबे लॉकडाउन (Lockdown) के बाद छूट देनी शुरू की है.

  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) ने रविवार को कहा कि वह कोरोना वायरस हॉटस्पॉट (Coronavirus Hotspot) का पता लगाने के लिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करेगा और स्मार्ट लॉकडाउन (Smart Lockdown) लगाएगा. पाकिस्तान ने यह बात देशभर में एक ही दिन में 2,870 मामले सामने आने के बाद लिया है.

इसके साथ ही पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले पाकिस्तान में बढ़कर 30330 हो चुकी है. पाकिस्तान ने हाल ही में अपने एक महीने लंबे लॉकडाउन (Lockdown) के बाद छूट देनी शुरू की है.

इस टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल के जरिए की जाएगी हॉटस्पॉट की पहचान
पाकिस्तान में एक प्रेसवार्ता में योजना मंत्री असद उमर ने बताया कि गरीबों पर लॉकडाउन का बहुत बुरा असर हुआ है, जिसके चलते जारी लॉकडाउन में छूट दी गई है. साथ ही उन्होंने यह चेतावनी भी दी कि इस छूट का यह मतलब नहीं है कि सभी रोकथाम के उपायों को खत्म कर दिया जाए.



उन्होंने कहा है कि इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कोविड-19 (Covid-19) के हॉटस्पॉट की पहचान के लिए और स्मार्ट लॉकडाउन लगाने के लिए किया जाएगा.



पाक के पंजाब प्रांत की सरकार ने बनाया लोगों को बेड-वेंटिलेटर की जानकारी देने वाला ऐप
उमर ने कहा है कि डेटा कलेक्शन पहले से ही किया जा रहा है और पूरे देश के सभी अस्पतालों को डेटा उपलब्ध कराने को कहा गया है ताकि एक वेब पोर्टल (Web Portal) का निर्माण किया जा सके जो रियल टाइम में कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारियां एक ही जगह पर देता रहे.

मंत्री ने कहा कि पंजाब सरकार ने एक एप्लीकेशन का भी निर्माण किया है, जो लोगों को आसपास के अस्पतालों में उपलब्ध बेड और वेंटिलेटर के बारे में जानकारी दे सकती है.

लोगों से रोकथाम के सभी उपायों को मानने का आग्रह करते हुए उन्होंने कहा, यह किसी अन्य समय से फिलहाल ज्यादा जरूरी है. उमर ने कहा कि यह हर नागरिक की जिम्मेदारी है कि वह एहतियातों का पालन करे ताकि कोरोना वायरस के प्रसार को रोका जा सके.

यह भी पढ़ें: भारत से आने वाले ट्रक देश में बढ़ा सकते हैं COVID-19 के मामले- नेपाली अधिकारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading