पाकिस्‍तान जाएंगे सऊदी प्रिंस, पांच ट्रक भरकर सामान भेजा, दो बड़ी होटलें पूरी बुक

रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इससे भारत और अमेरिका के बीच संबंधों को मजबूती मिलेगी. देश की सबसे बड़ी रिफाइनर आईओसी (IOC) भारत की पहली सरकारी ऑयल कंपनी है, जिसने अमेरिका के साथ सालाना डील की है.

रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इससे भारत और अमेरिका के बीच संबंधों को मजबूती मिलेगी. देश की सबसे बड़ी रिफाइनर आईओसी (IOC) भारत की पहली सरकारी ऑयल कंपनी है, जिसने अमेरिका के साथ सालाना डील की है.

क्राउन प्रिंस के रूप में मोहम्मद की यह पहली पाकिस्तान यात्रा होगी. ऐसी उम्मीद है कि वे खुद प्रधानमंत्री आवास में रहेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2019, 8:20 AM IST
  • Share this:
आर्थिक संकट का सामने कर रहे पाकिस्तान को अब सऊदी अरब का साथ मिलने वाला है. मुद्रा की कमी से जूझ रहे पाकिस्तान को सऊदी अरब ने बहुत बड़ा निवेश पैकेज देने का फैसला किया है. न्यूज एजेंसी पीटीआई के अनुसार, इसको लेकर बहुत जल्द ही क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान पाकिस्तान का दौरा करने वाले हैं. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की पर्सनल सुख सुविधाओं का सामान इस्लामाबाद पहुंच गया हैं. वह जल्द ही पाकिस्तान में दो दिवसीय दौरे पर आएंगे.

ऐसी उम्मीद है कि वह इस सप्ताह पाकिस्तान पहुंच सकते हैं. हालांकि सुरक्षा कारणों से उनके आने के सही समय का अभी खुलासा नहीं किया गया है. पाकिस्तानी अखबार द डॉन न्यूज ने सऊदी दूतावास के सूत्रों के हवाले से बताया कि राजकुमार के पर्सनल सामान पांच ट्रकों में भरकर इस्लामाबाद पहुंच चुके हैं. जिसमें व्यायाम, फर्नीचर का सामान और वाहन शामिल हैं. उनकी सुरक्षा की टीम और सऊदी मीडिया के प्रतिनिधि भी राजधानी पहुंच चुके हैं.

क्राउन प्रिंस के रूप में मोहम्मद की यह पहली पाकिस्तान यात्रा होगी. ऐसी उम्मीद है कि वे खुद प्रधानमंत्री आवास में रहेंगे. उनके कर्मचारियों के लिए इस्लामाबाद के शीर्ष दो होटलों को पूर्ण रूप से बुक कराया गया है. जबकि दो अन्य होटलों के भी कुछ कमरें बुक कराए गए हैं.



ये भी पढ़ें: इमरान खान बोले- 'हमारे पास सिखों का मक्का और मदीना है'
इमरान खान पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने के बाद दो बार सऊदी अरब का दौरा कर चुके हैं. इसके साथ ही वह मुस्लिम देश कतर और तुर्की का भी दौरा कर चुके हैं. जबकि चीन भी पाकिस्तान को आर्थिक संकट से उबारने की कोशिश कर रहा है.

ये भी पढ़ें: सऊदी, UAE और चीन, एक साल में कितनों का कर्जदार पाकिस्तान?

दरअसल, पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट में चीन के महत्वाकांक्षी प्रॉजेक्ट चाइना-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर के रिफाइनरी और तेल कॉम्प्लेक्स में सऊदी अरब 10 बिलियन डॉलर का निवेश करने जा रहा है. इस प्रॉजेक्ट के शुरू होने के बाद भारत और अफगानिस्तान के बीच भी सड़क मार्ग से व्यापार का रास्ता खुलेगा.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज