लाइव टीवी

बालाकोट एयरस्ट्राइक को नकारने वाले इमरान खान ने उगला सच, न्यूयॉर्क में रोना रोया

News18Hindi
Updated: September 24, 2019, 11:21 AM IST
बालाकोट एयरस्ट्राइक को नकारने वाले इमरान खान ने उगला सच, न्यूयॉर्क में रोना रोया
आखिरकार पाक पीएम इमरान खान ने बालाकोट एयरस्ट्राइक की बात स्वीकार कर ली है (फाइल फोटो)

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री (Pakistan's PM) इमरान खान (Imran Khan) ने सोमवार को काउंसिल ऑफ फॉरेन रिलेशंस (Council on Foreign Relations) में कई मुद्दों पर बात की. इस दौरान उन्होंने मोदी-ट्रंप (Modi-Trump) की रैली और पीएम मोदी के जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) पर हटाने पर अपनी प्रतिक्रिया दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2019, 11:21 AM IST
  • Share this:
न्यूयॉर्क. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री (Pakistan's PM) इमरान खान (Imran Khan) ने सोमवार को काउंसिल ऑफ फॉरेन रिलेशंस (Council on Foreign Relations) में कई मुद्दों पर अपना रुख स्पष्ट किया. इस दौरान उन्होंने मोदी-ट्रंप (Modi-Trump) की रैली और पीएम मोदी के जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir) से अनुच्छेद 370 (Article 370) पर हटाने पर अपनी प्रतिक्रिया दी. इतना ही नहीं इमरान खान ने वैश्विक मंच से बालाकोट एयरस्ट्राइक (Air Strike) की घटना को भी स्वीकार लिया, जिसके बारे में पाकिस्तान लगातार इनकार करता रहा है.

बता दें कि पाकिस्तानी पीएम इमरान खान (Imran Khan) के लिए शर्मिंदगी भरे साबित हुए इस कार्यक्रम में उन्हें एक के बाद एक शर्मिंदगी भरे सवाल झेलने पड़े. भारत से जुड़े सवालों का जवाब देने से पहले वे आतंक (Terrorism) को लेकर अपनी असफलताओं का ठीकरा अमेरिका (America) पर ही फोड़ते रहे. पाक को आतंक के आरोपों से बचाने के दौरान इमरान ये भी भूल गए थे कि वे खुद अमेरिका में ही बैठे हुए हैं और लगातार उसे आतंक का पोषक बता रहे हैं.

इमरान का दावा सेना को भारत से नए संबंधों के लिए किया राजी
इमरान खान ने कहा, "हमने अपने पड़ोसियों के साथ शांतिपूर्ण संबंध स्थापित करने की ओर बढ़े हैं. हमने करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) का प्रस्ताव किया है... मैं लगातार राष्ट्रपति गनी से बात कर रहा हूं. आर्मी ने भी इन सारे ही प्रयासों का समर्थन किया है. मैंने पीएम मोदी से कहा है कि हमारे पास एक नई नीति है, हम एन नई शुरुआत चाहते हैं. उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या आपको इसपर यकीन है? सेना को जवाब देते हुए मैंने कहा, मैंने कहा- हां".

पाकिस्तान (Pakistan)के पीएम इमरान खान (Imran Khan).


जब इमरान से पूछा गया कि आपने पीएम मोदी और बीजेपी के बारे में क्रूर बातें कही हैं. आगे आपका क्या रास्ता है? इमरान ने इस सवाल के जवाब में कहा, "यह दुखद है कि आज हम कहां खड़े हैं. मैंने पत्र लिखे हैं, हमारे एक से शत्रुओं गरीबी और पर्यावरण परिवर्तन... हम संबंधों को फिर से जोड़ना चाहते हैं."

जब इमरान ने उगल दी बालाकोट एयरस्ट्राइक की बात
Loading...

इमरान ने कहा कि जब पीएम मोदी (PM Modi) ने आतंकवाद के बारे में बात की तो मैंने उन्हें यह आश्वासन दिया कि हम सभी आतंकी नेटवर्क को नष्ट करेंगे. समस्या विश्वास की कमी है. हमारे विदेश मंत्रियों के बीच पिछले साल ही मुलाकात होनी थी लेकिन उन्होंने इसे रद्द कर दिया. हमने सोचा कि चुनावों के बाद उनके रुख में बदलाव आएगा.

पुलवामा (Pulwama) के बाद मैंने कहा कि हमें कोई भी सबूत दीजिए कि कोई पाकिस्तानी इस घटना से जुड़ा था. इसके बजाए भारत ने हम पर बम बरसाए. यहां तक कि हमने एक पायलट को भी बिना किसी सवाल के लौटाया. लेकिन भारत ने इसे हमारी कमजोरी माना. हमने पाया कि भारत FATF की ब्लैकलिस्ट में हमें शामिल कराने के लिए भी प्रयास कर रहा है. हमने महसूस किया है कि उनका एक एजेंडा है.

Imran Khan likely to meet Donald Trump on September 23
इमरान-ट्रंप ने भी मुलाक़ात की


रोये इमरान, 'हमारे साथ बात नहीं करता भारत'
जब अनुच्छेद 370 (Article 370) को हटाया गया, मैंने यह महसूस किया कि भारत सरकार RSS के एजेंडे पर चल रही है. समस्या यह है जब भी कोई बाहरी इसमे दखल देने की कोशिश करता है तो भारत कहता है कि यह द्विपक्षीय मुद्दा है लेकिन वे हमारे साथ द्विपक्षीय बातचीत नहीं करते. मैं यूएन में यूएन के इस मसले में दखल देने के लिए बातचीत करूंगा.

अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से कश्मीरी हालातों के बारे में दावा करते हुए इमरान खान ने कहा, कश्मीरियों को उनके घरों में बंद कर दिया गया है. मैं अब भारत से बात कैसे कर सकता हूं? मैं चाहता हूं कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय कर्फ्यू हटाने की मांग करे.



यह भी पढ़ें: आतंक को लेकर इमरान ने कबूलीं पाकिस्तान की करतूत, दुनिया के सामने खुली पोल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 23, 2019, 11:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...