होम /न्यूज /दुनिया /इमरान खान की विदाई तय, बस इंतजार बाकी! विपक्ष का ये चेहरा हो सकता है पाकिस्तान का अगला प्रधानमंत्री

इमरान खान की विदाई तय, बस इंतजार बाकी! विपक्ष का ये चेहरा हो सकता है पाकिस्तान का अगला प्रधानमंत्री

इमरान खान ने कहा कि मैं इन भ्रष्ट नेताओं को कभी माफ नहीं करूंगा.(फोटो साभार- ANI)

इमरान खान ने कहा कि मैं इन भ्रष्ट नेताओं को कभी माफ नहीं करूंगा.(फोटो साभार- ANI)

Pakistan PM Imran Khan: पाकिस्तान में कई दिनों से चल रही सियासी उठापटक अब खत्म होने वाली है. ऐसा माना जा रहा है कि पीएम ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) की सरकार किसी भी वक्त गिर सकती है. एक अन्य सहयोगी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-कायदे (PML-Q) ने इमरान खान का साथ छोड़ दिया है. सोमवार को इस दल ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज (PML-N) के साथ डील फाइनल कर ली है. CNN-News18 को मिली जानकारी के अनुसार, इमरान खान एक सप्ताह से कम समय के अंदर ही प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं.

पाकिस्तान में चल रहे इस पूरे सियासी घटनाक्रम से वाकिफ लोगों ने CNN-News18 को बताया कि, पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के अध्यक्ष शहबाज शरीफ (Shahbaz Sharif) देश के अगले प्रधानमंत्री हो सकते हैं. शहबाज शरीफ, पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ के छोटे भाई हैं. इसके अलावा मौलवी और उलेमा-ए-इस्लाम के अध्यक्ष मौलान फजलुर रहमान देश के अगले राष्ट्रपति हो सकते हैं, जो आरिफ अल्वी की जगह लेंगे. वहीं गठबंधन सरकार के अध्यक्ष पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के नेता और पूर्व पीएम यूसुफ रजा गिलानी हो सकते हैं.

इससे पहले CNN-News18 ने बताया था कि पंजाब प्रांत के चीफ मिनिस्टर उस्मान बुजदर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव दाखिल किया गया था. ऐसा बताया जा रहा है कि पंजाब प्रांत की असेंबली के वर्तमान अध्यक्ष चौधरी परवेज इलाही, अगले मुख्यमंत्री हो सकते हैं. दरअसल इमरान खान सरकार के खिलाफ एकजुट हुए विपक्षी दलों ने पंजाब और प्रांतीय स्तरों पर सत्ता में भागीदारी का खाका पूरी तरह से तैयार कर लिया था. इमरान खान सरकार में सहयोगी रही पाकिस्तान मुस्लिम लीग- कायदे ने इससे पहले यह मांग रखी थी कि चौधरी परवेज इलाही को मुख्यमंत्री का पद दिया जाए.

इमरान खान ने विशाल रैली में किया दावा, मेरी सरकार गिराने की साजिश के पीछे विदेशी ताकतों का हाथ

लाहौर असेंबली में 126 सदस्य मौजूदा मुख्यमंत्री उस्मान बुजदर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लेकर आए थे. ये सभी सदस्य सीएम के प्रदर्शन से नाखुश हैं. हालांकि सीएम उस्मान बुजदर को पद से हटाने के लिए विपक्ष को 186 वोटों की आवश्कता होगी. पंजाब प्रांत की असेंबली में 371 सीट हैं. इनमें से 183 सीट इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान-तहरीके-इंसाफ के पास हैं और बहुमत से 3 सीट कम है. वहीं पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी समेत अन्य विपक्षी दलों के पास कुल 183 सीट हैं. जबकि 5 निर्दलीय सदस्य हैं.

पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदर इमरान के सबसे करीबी सहयोगी बताए जाते हैं और जल्द ही सीएम पद से उनकी विदाई हो सकती है. ऐसे में पीएम इमरान खान की कुर्सी पर भी खतरा मंडरा रहा है.

" isDesktop="true" id="4158465" >

पाकिस्तान के विपक्षी दल सोमवार दोपहर बाद पीएम इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश कर सकते हैं और नेशनल असेंबली के अध्यक्ष असद कैसर इस पर 3 दिन के अंदर वोटिंग करा सकते हैं. उधर इमरान खान ने कहा कि वह किसी ताकत के आगे झुकने वाले नहीं हैं उन्होंने अपनी सरकार को अस्थिर करने के पीछे विदेशी ताकतों का हाथ बताया है.

Tags: Imran Khan Government, Pakistan, PM Imran Khan

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें