Home /News /world /

पाकिस्तान ने OIC की बैठक में उठाया कश्मीर का मुद्दा, मुस्लिम देशों से की दखल की मांग

पाकिस्तान ने OIC की बैठक में उठाया कश्मीर का मुद्दा, मुस्लिम देशों से की दखल की मांग

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान

Imran Khan rake up Kashmir issue at OIC meet in Islamabad: पाकिस्तान ने फिर से अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सामने कश्मीर का मुद्दा उठाया है. इस्लामाबाद में आयोजित इस्लामिक देशों के संगठन में प्रधानमंत्री इमरान ने कहा कि फिलिस्तीन और कश्मीर के लोग अपने लोकतांत्रिक और मानवाधिकारों के लिए मुस्लिम देशों की ओर देख रहे हैं. 

अधिक पढ़ें ...

    इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) ने फिर से अंतरराष्ट्रीय मंच पर कश्मीर का मुद्दा उठाया है. इस्लामाबाद में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (Imran Khan) ने इस्लामिक देशों के संगठन (Organisation of Islamic Cooperation) से जुड़े कार्यक्रम में कश्मीर का एजेंडा रखा. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इमरान खान ने सभी मुस्लिम राष्ट्रों से कहा कि वे कश्मीर के मुद्दे (Kashmir Issue) पर एकीकृत योजना बनाएं. ओआईसी के काउंसिल ऑफ फॉरेन मिनिस्टर्स 71वें एक्सट्राऑर्डिनरी सेशन को संबोधित करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि फिलिस्तीन और कश्मीर के लोग अपने लोकतांत्रिक और मानवाधिकारों के लिए मुस्लिम देशों की ओर देख रहे हैं. दरअसल मुस्लिम राष्ट्रों के इस संगठन की यह बैठक अफगानिस्तान के मसले पर हुई है.

    न्यूज इंटरनेशनल के अनुसार, मुस्लिम देशों के विदेश मंत्रियों से जुड़े इस कार्यक्रम में इमरान खान ने कहा कि, इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) को दुनिया को इस्लाम की शिक्षा और आखिरी पैगंबर हजरत मोहम्मद के प्यार और लगाव के पैगाम को लोगों तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करनी चाहिए.

    पाकिस्तानी सेना प्रमुख ने अलापा कश्मीर राग
    वहीं पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने भी कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर मसले का हल होना चाहिए ताकि क्षेत्र में शांति और सद्भाव कायम रहे. सऊदी अरब के विदेश मंत्री फैसल बिन फरहान अल सऊद के साथ बैठक में यह बात कही.

    यह भी पढ़ें: अब POK से भी आतंकी संगठनों में भर्ती कर रहा पाकिस्तान, ISI कर रही मीटिंग

    पाकिस्तान की सेना ने बयान जारी करते हुए बताया कि, रविवार को आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा ने साउथ एशिया में शांति और स्थिरता बनाए रखने के लिए कश्मीर मसले के शांतिपूर्ण हल पर जोर दिया. पाकिस्तान चाहता है कि वह इस क्षेत्र में शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए अपने सभी पड़ोसियों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध रखना चाहता है.

    दरअसल अगस्त 2019 में भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर को दिया विशेष दर्जा वापस लेते हुए आर्टिकल 370 को हटा दिया था और जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया था इसके बाद से ही भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय संबंध खराब हो गए थे. पाकिस्तान ने यूएन समेत विभिन्न इंटरनेशनल फोरम पर भारत के इस फैसले का विरोध किया था और कश्मीर मामले में दखल देने की मांग की थी.

    Tags: Imran khan, Pakistan, Pakistan army

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर