चीन को झटका देने की तैयारी में पाकिस्तान, पीएम इमरान खान करवा सकते हैं Tiktok बैन

फोटो सौ. (न्यूज18 इंग्लिश)
फोटो सौ. (न्यूज18 इंग्लिश)

पाकिस्तान के सूचना मंत्री ने बताया कि पीएम इमरान खान टिकटॉक (Tiktok) और उस जैसे अन्य ऐप्स को बैन (Ban) कर सकते हैं. दरअसल, पीएम इरान खान समाज में बढ़ती नग्नता-अश्लीलता को लेकर बेहद चिंतित हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 6:25 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. भारत और अमेरिका के बाद पाकिस्तान (Pakistan) भी अब अपने दोस्त चीन को झटका देने जा रहा है. दरअसल, पाकिस्तान के सूचना मंत्री शिबली फराज ने द न्यूज को दिए एक इंटरव्यू में दावा किया है कि प्रधानमंत्री इमरान खान भी टिकटॉक को बैन (TikTok Ban) करना चाहते हैं. लेकिन उन्होंने साफ किया कि यह डेटा सिक्योरिटी की वजह से नहीं बल्कि दूसरे कारणों से बैन किया जा सकता है. इसके पीछे की वजह है देश में फैल रही अश्लीलता. टिकटॉक के साथ इस तरह के अन्य ऐप को भी बैन करने पर विचार किया जा रहा है. वहीं, कुछ जानकारों का यह भी कहना है कि इमरान खान के लिए चाइनीज ऐप्स के खिलाफ कार्रवाई करना आसान नहीं होगा.

द न्यूज से बात करते हुए शिबली फराज ने कहा, ''पीएम इमरान खान समाज में बढ़ती नग्नता-अश्लीलता को लेकर बेहद चिंतित हैं. उन्होंने कहा है कि इससे पहले कि यह सामाजिक धार्मिक मूल्यों को खत्म कर दे, इसे रोकना जरूरी है.'' सूचना मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने उनके साथ इस मुद्दे पर एक या दो बार नहीं बल्कि 15-16 बार चर्चा की है. वह समाज में मुख्यधारा के आउटलेट्स, सोशल मीडिया और ऐप्स के जरिए फैल रही अश्लीलता को रोकने के लिए व्यापक रणनीति चाहते हैं. हाल ही में एक गैंग रेप केस को लेकर इमरान खान ने कहा था, ''दुनिया का इतिहास आपको बताता है कि समाज में जब अश्लीलता बढ़ती है तो दो चीजें होती हैं- महिलाओं को खिलाफ अपराध में वृद्धि होती है और परिवार टूटते हैं.'' शिबली फराज ने कहा कि प्रधानमंत्री ने उन्हें हाल ही में कहा कि टिकटॉक जैसे ऐप्स समाज के मूल्यों को नुकसान पहुंचा रहे हैं और इसलिए इन्हें बैन कर देना चाहिए.

ये भी पढ़ें: UN महासभा में इमरान का भाषण शुरू होते ही भारतीय प्रतिनिधि ने किया वॉकआउट



भारत और अमेरिका में टिकटॉक बैन
रिपोर्ट के मुताबिक, पीएम इमरान खान ने पाकिस्तान टेलिकम्युनिकेशन अथॉरिटी (पीटीए) को आदेश दिया है कि इंटरनेट, सोशल मीडिया और ऐप्स को अश्लीलता से मुक्त किया जाए. पीटीए ने हाल ही में पांच डेटिंग ऐप्स को बैन किया था जिन पर नग्नता और समलैंगिकता फैलाने का आरोप था. वहीं, सीमा विवाद के बीच हाल ही में भारत ने टिकटॉक सहित 100 से अधिक चाइनीज ऐप्स को बैन कर दिया, जिससे चीन बैखला गया. भारत ने डेटा सुरक्षा, देश की सुरक्षा और संप्रभुता के लिए इन ऐप्स को खतरनाक बताया था. इसके बाद अमेरिका ने भी टिकटॉक को बैन कर दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज