Home /News /world /

पाकिस्तान का 22वां पीएम बनने में इमरान खान को लगे 22 साल, जानें अब तक का सफर

पाकिस्तान का 22वां पीएम बनने में इमरान खान को लगे 22 साल, जानें अब तक का सफर

पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान की फाइल फोटो- AP Photo

पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान की फाइल फोटो- AP Photo

इमरान खान ने पाकिस्तान को ‘नया पाकिस्तान’ में, भ्रष्टाचार से मुक्त एक कल्याणकारी देश में बदलने का वादा किया है.

    पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान ने शनिवार को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली. क्रिकेटर से नेता बने खान देश के 22वें प्रधानमंत्री बने हैं जबकि पाकिस्तान बनने के 71 साल के इतिहास में आधे से ज्यादा समय तक चार सैन्य सरकारों ने ही यहां शासन किया है.

    खान के सत्ता तक पहुंचने का घटनाक्रम:

    25 अप्रैल, 1996: इमरान खान ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) राजनीतिक पार्टी की स्थापना की.

    10 अक्तूबर, 2002 : खान ने 2002 का आम चुनाव लड़ा और वह संसद सदस्य के रूप में चुने गए.

    19 नवंबर, 2007: पूर्व सैन्य शासक (सेवानिवृत्त) जनरल परवेज मुशर्रफ के शासन की आलोचना करने की वजह से खान को थोड़े समय जेल में भी रहना पड़ा.

    11 मई, 2013: खान ने पाकिस्तान को ‘नया पाकिस्तान’ में, भ्रष्टाचार से मुक्त एक कल्याणकारी देश में बदलने का वादा किया.

    यह भी पढ़ें: ...जब उर्दू में शपथ लेने के दौरान अटक गए पीएम इमरान खान

    25 जून, 2016: खान ने पनामा पेपर जारी होने के बाद घोषणा की कि उनकी पार्टी पीटीआई प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ प्रदर्शन करेगी.

    दो नवंबर, 2016: पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) नेता हनीफ अब्बासी ने खान को अयोग्य करार देने के लिए याचिका दायर की. अब्बासी ने खान पर धन शोधन, संपत्ति का ब्योरा छुपाने और पार्टी के विदेशों से धन लेने का आरोप लगाया.

    तीन मई, 2017: पाकिस्तान के उच्चतम न्यायालय ने मामले की सुनवाई शूरू की और खान से ‘बनी गाला’ संपत्ति पर उनसे पूछताछ की.

    एक जून, 2017: खान की पूर्व पत्नी जेमिना गोल्ड्स्मीथ ने ट्वीट करके बताया कि उन्हें इस मामले में इमरान को 'अदालत में बेकसूर साबित करने के लिए बैंक स्टेटमेंट' मिला है.

    यह भी पढ़ें:  पाकिस्तानी सेना प्रमुख के गले मिले, PoK के राष्ट्रपति के बगल में बैठे सिद्धू

    15 दिसंबर, 2017: उच्चतम न्यायालय ने खान के पक्ष में फैसला सुनाया और पाकिस्तान भ्रष्टाचार निरोधी अदालत ने पनामा पेपर मामले में शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ मुकदमा शुरू किया.

    27 मई, 2018: पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव आयोजित कराने की घोषणा की गई.

    25 जुलाई, 2018: पाकिस्तान ने सीधे तीसरी बार चुनी हुई असैनय सरकार बनाने के लिए मतदान किया.

    26 जुलाई, 2018: मतदान में कदाचार के आरोपों के बीच खान ने आम चुनाव में जीत का दावा किया.

    28 जुलाई, 2018: खान की पीटीआई कौमी असेंबली में 116 सीटों के साथ इस चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी.

    छह अगस्त, 2018: पीटीआई ने खान को पाकिस्तान के अगले प्रधानमंत्री का उम्मीदवार घोषित किया.

    सात अगस्त, 2018: चुनाव आयोग ने खान को नेशनल असेंबली के सदस्य के रूप में शपथ लेने की सशर्त अनुमति दी.

    13 अगस्त, 2018: खान सहित पाकिस्तान के संसद सदस्य के रूप में निर्वाचित 329 सदस्यों ने शपथ ली.

    15 अगस्त, 2018: पाकिस्तान की संसद ने खान के पार्टी के उम्मीदवारों को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के रूप में निर्वाचित किया.

    17 अगस्त, 2018: खान ने पीएमएल-एन के प्रधानमंत्री उम्मीदवार शहबाज शरीफ को हराया.

    18 अगस्त, 2018: खान ने पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली.

    यह भी पढ़ें: इमरान खान ने पाकिस्‍तान के 22वें प्रधानमंत्री पद की ली शपथ

    Tags: Imran khan, Pakistan, Pakistan Elections

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर