हिंदुओं से गलत बर्ताव करने पर UN में पाकिस्तान को लगी फटकार

News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 10:06 AM IST
हिंदुओं से गलत बर्ताव करने पर UN में पाकिस्तान को लगी फटकार
संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी दूत सैम ब्राउनबैक ने धार्मिक स्वतंत्रता के मासमले में चीन और पाकिस्तान को खरी-खोट सुनाई है.

संयुक्त राष्ट्र (United Nations) में अमेरिकी दूत सैम ब्राउनबैक ने कहा कि पाकिस्तान (Pakistan) में रह रहे अल्पसंख्यक (minorities) भेदभावपूर्ण कानूनों और प्रथाओं के कारण हर रोज प्रताड़ित किए जाते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 23, 2019, 10:06 AM IST
  • Share this:
संयुक्त राष्ट्र (United Nations) में धार्मिक स्वतंत्रता (religious freedom) को लेकर चल रही बहस में एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) और चीन (China) को फटकार लगाई गई है. अमेरिका ने धार्मिक स्वतंत्रता पर चीन और पाकिस्तान को खरी-खोट सुनाई है तो वहीं कनाडा और ब्रिटेन ने पाकिस्तान में हिंदुओं और अल्पसंख्यकों के साथ किए जा रहे गलत बर्ताव पर इमरान सरकार को फटकार लगाई है.

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में अमेरिकी दूत सैम ब्राउनबैक ने कहा कि पाकिस्तान में रह रहे अल्पसंख्यक भेदभावपूर्ण कानूनों और प्रथाओं के कारण हर रोज प्रताड़ित किए जाते हैं. इसी तरह चीन में धार्मिक स्वतंत्रता पर लगातार अनुचित प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं. दोनों ही देशों में जिस तरह से अल्पसंख्यकों के साथ बर्ताव किया जा रहा है वह चिंतित करने वाला है. हम चीन की सरकार से सभी के मानवाधिकारों और मौलिक स्वतंत्रता का सम्मान करने का आग्रह करते हैं.



संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने दुनिया भर के देशों से धर्म के नाम पर बढ़ रही नफरत को खत्म करने की अपील की. उन्होंने कहा कि मुस्लिम, हिंदू और ईसाई के खिलाफ घृणा और उत्पीड़न की भावना को खत्म किया जाना चाहिए.
Loading...




संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि धर्म के आधार पर किसी भी व्यक्ति के साथ हिंसा नहीं होनी चाहिए. उन्होंने सभी देशों से अपील की कि धर्म आधारित हमलों को रोकने और जो लोग इसके लिए जिम्मेदार हैं उन्हें दंडित किए जाने के लिए ठोस कदम उठाने की जरूरत है.

इसे भी पढ़ें :-

अमेरिका की पाकिस्तान को चेतावनी, इस वक्त भारत से न ले कोई पंगा
कैसे एटॉमिक बटन दबा सकते हैं भारत और पाकिस्तान के पीएम!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 10:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...