लाइव टीवी

पाकिस्‍तान में प्रेम की सजा मौत, एक साल में मार डाले गए एक दर्जन जोड़े

News18Hindi
Updated: March 30, 2020, 5:20 PM IST
पाकिस्‍तान में प्रेम की सजा मौत, एक साल में मार डाले गए एक दर्जन जोड़े
गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजा फर्रुखाबाद (file photo)

मासूम बच्‍ची और पत्‍नी के सामने ही की गई हत्‍या. इस बीच बच्‍ची पिता के शव से लिपट कर रोती रही.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 30, 2020, 5:20 PM IST
  • Share this:
इस्‍लामाबाद. पाकिस्‍तान (Pakistan) के सिंध प्रांत (Sindh) में प्रेम विवाह करने वाले एक शख्‍स को मौत के घाट उतार दिया गया. शादी के ढाई साल बाद वह अपनी ससुराल आया था. वहीं गांव में दाखिल होने से पहले उसने पुलिस को भी अपनी हत्‍या (Murder) होने की आशंका जताई थी और सुरक्षा की गुहार लगाई थी.

सिंध के काजी अहमद क्षेत्र के रहने वाले सिद्दीक खोसो ने मसमात हव्‍वा से प्रेम विवाह किया था. इसके बाद वह अपनी पत्‍नी और खुद को दोनों समुदायों के गुस्‍से से बचाने के लिए कराची में जाकर रहने लगा था. वहीं उसने काम ढूंढ़ लिया और दोनों पति-पत्‍नी खुशी से रहने लगे. इसी बीच दोनों की एक बेटी भी हुई. इस बीच मसमात हव्‍वा के पिता कादिर बख्श खोसो ने सिद्दीक खोसो के खिलाफ अपनी बेटी के अपहरण की रिपोर्ट काजी अहमद थाने में दर्ज करा दी. हालांकि इस बीच सिद्दीक खोसो अपने ससुर और अन्य रिश्तेदारों के संपर्क में रहा. साथ ही वह अपनी बात भी सबसे कहता रहा कि उसने यह शादी कानूनी
और शरई कानून को ध्‍यान में रखते हुए की है और उसकी और उसकी पत्‍नी की गलती को माफ कर करके अपना लिया जाए.

इस तरह के अपराध इन समुदायों के लिए सम्मान की बात है. हाल में एक और प्रेम विवाह करने वाला जोड़ा बिरादरी के गुस्‍से का निशाना बना. यही वजह है कि मासूम बच्‍ची और पत्‍नी के सामने ही व्‍यक्ति की हत्‍या कर दी गई. इस बीच बच्‍ची पिता के शव से लिपट कर रोती रही, मगर अपराधियों को तरस नहीं आया.



पुलिस को बताया था रिश्‍तेदारों से है जान को खतरा


अपने रिश्‍तेदारों के पास जाने से पहले वह पुलिस स्‍टेशन भी गया था और वहां फरियाद की थी कि उसकी शादी से उसके ससुराल वाले नाखुश हैं और उसे अपनी पत्‍नी, अपनी और बच्‍ची की जान को खतरा है. इसलिए उसे सुरक्षा दी जाए. हालांकि पुलिस की ओर से ऐसा कुछ नहीं किया गया और एक निर्दोष मारा गया.

सिंध प्रांत में कुछ ऐसे समुदाय भी हैं जो अपने कबीले या समुदाय से अलग जाकर शादी करने वालों को अच्‍छी निगाह से नहीं देखते और इसे अपने सम्‍मान के खिलाफ मानते हैं. अगर कोई ऐसा करता है तो उसकी हत्‍या तक करने से नहीं चूकते. यही वजह है कि एक साल के दौरान प्रांत के अलग-अलग हिस्‍सों में प्रेम-विवाह करने वाले करीब एक दर्जन जोड़ों को मार दिया गया है.

ये भी पढ़ें - पाकिस्‍तान में अब कांगो वायरस का आतंक, दो मामले सामने आए, महिला की मौत

                PAK Lockdown : भूख से बेहाल और 16 सौ किलोमीटर का सफर रिक्‍शा पर

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 30, 2020, 5:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading