UNHRC में कश्मीर पर पाकिस्तान ने बोले ये 5 झूठ, अब भारत देगा जवाब

News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 12:10 PM IST
UNHRC में कश्मीर पर पाकिस्तान ने बोले ये 5 झूठ, अब भारत देगा जवाब
कश्मीर की स्थिति को लेकर पाकिस्तान ने UNHRC में 115 पन्नों का डॉज़ियर सौंपा है जिसमें उसने भारत के खिलाफ झूठ का पुलिंदा खोला है.

कश्मीर (Kashmir) की स्थिति को लेकर पाकिस्तान ने UNHRC में 115 पन्नों का डॉज़ियर सौंपा है जिसमें उसने भारत के खिलाफ झूठ का पुलिंदा खोला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 12, 2019, 12:10 PM IST
  • Share this:
जेनेवा. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) से आर्टिकल 370 (Article 370) के अधिकतर प्रावधान हटाए जाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने के भारत सरकार (Government of India) के फैसले को पाकिस्तान (Pakistan) हजम नहीं कर पा रहा है. ऐसे में अब वह संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद् (United Nations Human Rights Council) में इसे मुद्दा बनाने की तमाम कोशिशों में लगा हुआ है. इसी के चलते उसने मंगलवार को UNHRC में कश्मीर (Kashmir) की स्थिति को लेकर पाकिस्तान ने 115 पन्नों का डॉज़ियर सौंपा जिसमें उसने भारत पर कई आरोप लगाए.

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने भारत पर आरोप लगाते हुए कहा कि भारत कश्मीर में मानवाधिकारों का उल्लंघन कर रहा है. पाकिस्तान ने अपने इस झूठ के पुलिंदे में भारत पर कई आरोप लगाए हैं. पाकिस्तान के इन सभी झूठों को थोड़ी ही देर में बेनकाब करेगा.

जानिए पाकिस्तान ने UNHRC में भारत पर कौन-कौन से झूठे आरोप लगाए हैं-
-पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने UNHRC में कहा कि कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा नहीं है. कश्मीर में कब्रिस्तान जैसी शांति है और वहां नरसंहार हो रहा है.

-पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने अपने भाषण में बीजेपी (BJP) के घोषणापत्र तक का ज़िक्र कर डाला, कुरैशी ने आरोप लगाया कि इसमें जबरन मुसलमानों को अल्पसंख्यक बनाने की बात की गई है.

-विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) के 42 वें सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि शीर्ष मानवाधिकार निकाय को मुद्दे को लेकर अपनी उदासीनता से विश्व मंच पर शर्मसार नहीं होना चाहिए.

-कुरैशी ने आरोप लगाया है कि जम्मू-कश्मीर में नागरिकों के मूलभूत अधिकारों को रौंदा गया है. कुरैशी ने यह भी कहा कि जम्मू-कश्मीर में 7 से 10 लाख सैनिक हैं. पिछले 6 हफ्तों में यह दुनिया का सबसे बड़ा कैदखाना बन गया है. उनका कहना था कि कश्मीर में 6 हजार से अधिक नेता, सोशल वर्कर्स और छात्रों को गिरफ्तार किया गया है.
Loading...

-शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि कश्मीर में लोगों को ज़रूरी सामान भी नहीं मिल पा रहे हैं. इतना ही नहीं कुरैशी ने ये भी कहा कि वहां के लोग मौलिक स्वतंत्रता के उल्लंघनों का शिकार हो रहे हैं.



ये भी पढ़ें-
पाकिस्तान ने दुनिया के सामने स्वीकारा सच, UN में कश्मीर को बताया भारत का राज्य

भारत-पाक में कम हुआ तनाव, दोनों देश चाहें तो मदद करने को तैयार हूं: ट्रंप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 5:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...