• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • पाकिस्तान को कंगाल करने पर इमरान खान से मांगा इस्तीफा, PM बोले- नहीं छोड़ूंगा कुर्सी

पाकिस्तान को कंगाल करने पर इमरान खान से मांगा इस्तीफा, PM बोले- नहीं छोड़ूंगा कुर्सी

इमरान खान ने साफ कर दिया है कि वह किसी के दबाव में इस्तीफा नहीं देंगे.

इमरान खान ने साफ कर दिया है कि वह किसी के दबाव में इस्तीफा नहीं देंगे.

पाकिस्तान (Pakistan) के जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम (Jamiat Ulema-e-Islam) के नेता मौलाना फजलुर्रहमान (Maulana Fazlur Rahman) ने इमरान सरकार (Imran Khan) को सत्ता से हटाने के लिए इस्लामाबाद (Islamabad) तक आजादी मार्च निकालने की तैयारी की है.

  • Share this:
    इस्लामाबाद. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) से आर्टिकल 370 (Article 370) हटाए जाने और पाकिस्तान (Pakistan) की लगातार कमजोर होती आर्थिक स्थिति से नाराज पाकिस्तान में अब इमरान खान को पद से हटाए जाने की मांग तेज हो गई है. खबर है कि पाकिस्तान के जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम (Jamiat Ulema-e-Islam) के नेता मौलाना फजलुर्रहमान (Maulana Fazlur Rahman) ने इमरान सरकार को सत्ता से हटाने के लिए इस्लामाबाद (Islamabad) तक आजादी मार्च निकालने की तैयारी की है. हालांकि, इमरान खान ने साफ कर दिया है कि वह किसी के भी दबाव में इस्तीफा नहीं देने वाले हैं.

    प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि वो मौलाना फजलुर्रहमान के दबाव में नहीं आने वाले हैं. एक घंटे से अधिक समय तक वरिष्ठ पत्रकारों और विश्लेषकों के साथ चली बैठक में प्रधानमंत्री ने जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम की ओर से उठाई जा रही मांगों के बारे में बात की. बैठक में मुद्रस्फीति के मुद्दों, बेरोजगारी और विदेश नीति को लेकर उचित कदम उठाने पर चर्चा हुई.

    Pakistan, Imran Khan, Islamabad, article 370, Jammu and Kashmir, independence march
    इमरान खान ने स्वीकार किया कि महंगाई और बेरोजगारी एक बड़ी समस्या है.


    प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि मौलाना फजलुर्रहमान को साजिश के तहत ऐसा करने के लिए कहा गया है. पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि 'मेरे इस्तीफे का कोई सवाल नहीं है और मैं इस्तीफा नहीं दूंगा. आजादी मार्च एक एजेंडे पर आधारित है और इसमें विदेशी समर्थन है. प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कहा कि जेयूआई-एफ के विरोध से भारत में खुशी का माहौल है. बैठक में इमरान खान ने स्वीकार किया कि महंगाई और बेरोजगारी एक बड़ी समस्या है, जिसे उनकी सरकार सुलझाने की कोशिश कर रही है.

    इसे भी पढ़ें :- इमरान खान को सत्ता से बाहर होने का सता रहा डर, बोले- बातचीत का रास्ता खोजो

    Pakistan, Imran Khan, Islamabad, article 370, Jammu and Kashmir, independence march
    इमरान खान ने साफ कर दिया है कि वह किसी के भी दबाव में इस्तीफा नहीं देने वाले हैं.


    27 अक्टूबर सिंध से आजादी मार्च निकाली जानी है.
    प्रधानमंत्री इमरान खान, फजलुर्रहान की मांगों को पता लगाने के लिए उसने मिलने को तैयार है. बैठक में साफ कहा गया है कि इस मुद्दे पर किसी भी तरह का गतिरोध नहीं बढ़ना चाहिए. बैठक में ये भी फैसला लिया गया है कि मौलाना रहमान की ओर से 27 अक्टूबर को सिंध से आजादी मार्च के रूप में निकाले जाने वाले आंदोलन को रोका नहीं जाएगा. यह आंदोलन 31 अक्टूबर को इस्लामाबाद पहुंचेगा.

    इसे भी पढ़ें :-पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान हुए बेबस! अब उनके खुद के लोग ही पाकिस्तान को कर रहे हैं कंगाल

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज