लाइव टीवी

पाकिस्तान के मंत्री ने बोला- हमने भेजा था अंतरिक्ष में हबल, लोगों ने कहा- इसे स्पेस में भेज दो

News18Hindi
Updated: May 6, 2019, 6:28 PM IST
पाकिस्तान के मंत्री ने बोला- हमने भेजा था अंतरिक्ष में हबल, लोगों ने कहा- इसे स्पेस में भेज दो
फाइल फोटो

विज्ञान एवं तकनीकी मंत्री फवाद ने एक टॉक शो के दौरान दिया बयान, अब सोशल मीडिया पर हुए ट्रोल

  • Share this:
पाकिस्तान के विज्ञान व तकनीकी मंत्री फवाद चौधरी ने कुछ ऐसा कह दिया कि वो सोशल मीडिया पर हंसी का पात्र बन गए. दरअसल जियो न्यूज के एक टॉक शो के दौरान फवाद ने यह कह दिया कि विश्व का सबसे बड़ा टेलिस्कोप हबल अंतरिक्ष में सुपरको (स्पेस एंड अपर ‌एटमॉस्फेयर रिसर्च कमीशन) ने भेजा था.

आगे भी नहीं रुके फवाद
फवाद ने कहा कि हमारे देश की तकनीक को देखने का एक सही तरीका है कि हबल को देखा जाए जो सुपरको ने अंतरिक्ष में स्‍थापित किया. इसके साथ ही फवाद ने कहा कि हम और भी सैटेलाइट भेज चुके हैं और अन्य तकनीकों पर भी काम हो रहे हैं.

हो गए ट्रोल

इस बयान के बाद फवाद ट्वीटर पर काफी ट्रोल हुए. एक ट्वीटर यूजर ने लिखा कि हो सकता है नासा के प्रमुख ने शायद इस्तीफा दे दिया होगा क्योंकि वो सुपरको ज्वाइन करने जा रहे होंगे. इस दौरान एक यूजर ने फवाद को लेकर कहा कि ऐसे वैज्ञानिक को तो स्पेस में भेज देना चाहिए. गौरतलब है कि पिछले साल नवंबर में ही फवाद ने कहा था कि कुछ राजनीतिज्ञ जमीन पर परेशानियां पैदा कर रहे हैं और उन्हें स्पेस में भेज देना चाहिए, मैं सुपरको से बात करता हूं और यह सुनिश्चित करूंगा कि वे स्पेस से वापस न आ पाएं.

क्या है सुपरको
स्पेस एंड अपर एटमॉस्फेयर रिसर्च कमीशन पाकिस्तान के स्पेस प्रोग्राम के लिए उत्तरदायी है. साथ ही यह संस्‍था एयरोनॉटिक और एयरोस्पेस रिसर्च भी करती है.1990 में नासा ने भेजा था हबल
हबल को नासा ने 1990 में पृथ्वी की कक्षा में स्‍थापित किया था और यह तब से ही काम कर रहा है. इस टेलिस्कोप का नाम अंतरिक्ष यात्री एडविन हबल के नाम पर रखा गया है. हाल ही में हबल ने 3 करोड़ प्रकाश वर्ष दूर सर्पिल आकाशगंगा का पता लगाया था. नासा ने इसकी जानकारी देते हुए बताया था कि सर्पिल आकाशगंगाओं में घुमावदार, गोलाकार सिरों के साथ ही चमकदार सितारे, धधकती हुई गैसें और धूल के कण शामिल हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 6, 2019, 5:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर