PAK को बड़ा झटका! UNGA चीफ के सामने उठाना चाहता था कश्मीर मुद्दा, यात्रा ही रद्द

PAK को बड़ा झटका! UNGA चीफ के सामने उठाना चाहता था कश्मीर मुद्दा, यात्रा ही रद्द
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (File Photo)

'कश्मीर राग' (Kashmir Issue) छेड़कर भारत (India) को बदनाम करने की पाकिस्तान (Pakistan) की कोशिश औंधे मुंह गिर गई है. संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 75 वें सत्र के लिये निर्वाचित अध्यक्ष वोल्कान बोजकिर (Volkan Bozkir) की पाकिस्तान यात्रा स्थगित हो गयी है.

  • Share this:
इस्लामाबाद. अंतरराष्ट्रीय मंचों पर एक बार फिर 'कश्मीर राग' (Kashmir Issue) छेड़कर भारत (India) को बदनाम करने की पाकिस्तान (Pakistan) की कोशिश औंधे मुंह गिर गई है. संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 75वें सत्र के लिये निर्वाचित अध्यक्ष वोल्कान बोजकिर (Volkan Bozkir) की पाकिस्तान यात्रा स्थगित हो गयी है. इमरान खान (Imran Khan) का प्लान था कि वोल्कान बोजकिर की पाकिस्तान यात्रा के दौरान वे कश्मीर मुद्दे को फिर हवा देने की कोशिश करेंगे, लेकिन अब उनके मंसूबों पर पानी फिरता नज़र आ रहा है. बोजकिर ने रविवार को कहा कि 'उड़ान में कुछ तकनीकी समस्याएं आ जाने के चलते वह फिलहाल पाकिस्तान की अपनी यात्रा स्थगित कर रहे हैं.

बोजकिर का पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के न्यौते पर 26-27 जुलाई को पाकिस्तान की यात्रा करने का कार्यक्रम था. बोजकिर ने ट्वीट किया, 'कुरैशी के न्यौते पर 26-27 जुलाई की निर्धारित अपनी पाकिस्तान यात्रा हमें उड़ान में कुछ तकनीकी समस्याओं के चलते फ़िलहाल स्थगित करनी पड़ी है.' तुर्की के राजनयिक बोजकिर ने कहा, 'मैं निकट भविष्य में पाकिस्तान की यात्रा की उम्मीद कर रहा हूं और संयुक्त राष्ट्र की 75वीं महासभा के एजेंडे में मुद्दों और प्राथमिकताओं पर सार्थक विचार-विमर्श की आशा करता हूं.' इस पर कुरैशी ने कहा कि 'रचनात्मक और नतीजे देने वाली यात्रा' के लिए पाकिस्तान में बोजकिर का स्वागत करने के लिए वह आशान्वित हैं. गौरतलब है कि कुरैशी ने पिछले सप्ताह कहा था कि वह बोजकिर के साथ कश्मीर समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे.






कश्मीर पर बात करने की घोषणा की थी
इमरान सरकार के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने ऐलान किया था कि वे बोजकिर के पाकिस्तान दौरे के दौरान उनसे कश्मीर मसले पर वन-टू-वन चर्चा करेंगे. कुरैशी ने कहा था कि हम यूएनजीए प्रेसिडेंट को भारत अधिकृत जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा किए जा रहे अत्याचारों के बारे में बताएंगे. सूत्रों के हवाले से न्यूज एजेंसी ने बताया कि भारत और पाकिस्तान के बीच लंबे समय से चले रहे कश्मीर विवाद को उठाने के लिए इमरान सरकार काफी समय से ऐसे मौके का इंतजार कर रही थी. इसी के मद्देनजर यूएनजीए प्रसिडेंट को पाकिस्तान बुलाया गया था. बोजकिर के साथ अपनी मीटिंग के बारे में बताते हुए कुरैशी ने कहा था कि उनका फोकस कश्मीर के हालात को यूएनजीए के सामने लाना होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading