लाइव टीवी

पाकिस्तान ने माना हो रहा है अल्पसंख्यकों का जबरन धर्मांतरण, रोकने के लिए बनाई संसदीय समिति

भाषा
Updated: November 23, 2019, 9:17 PM IST
पाकिस्तान ने माना हो रहा है अल्पसंख्यकों का जबरन धर्मांतरण, रोकने के लिए बनाई संसदीय समिति
सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की का कथित अपहरण कर धर्मांतरण करने की घटना के बाद गठित की गई है (फाइल फोटो, AP)

यह समिति सितंबर महीने में सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की (Hindu Girl) का कथित अपहरण कर धर्मांतरण (Conversion) करने की घटना के बाद गठित की गई है.

  • Share this:
इस्लामाबाद. रूढ़िवादी मुस्लिम बहुल पाकिस्तान (Pakistan) ने धार्मिक अल्पसंख्यकों (Minorities) का जबरन धर्मांतरण (Forced Conversion) रोकने और उनके अधिकारों की रक्षा के लिए कानून का मसौदा बनाने के लिए 22 सदस्यीय संसदीय समिति गठित की है. मीडिया में शनिवार को आई खबर में यह जानकारी दी गई.

डॉन में प्रकाशित खबर के मुताबिक सीनेट के अध्यक्ष सादिक संजरानी ने नेशनल असेंबली के स्पीकर (Speaker of National Assembly) असर कैसर, सीनेट के नेता सदन शिबली फराज और नेता प्रतिपक्ष राजा जफ़रुल हक से परामर्श कर समिति का गठन किया. इस संबंध में सीनेट सचिवालय (Senate Secretariat) ने 21 नवंबर को अधिसूचना जारी की.

समिति में साबित होंगे ये सदस्य
धार्मिक मामलों के मंत्री (Minister of Religious Affair) नूरुल हक कादरी, मानवाधिकार मंत्री शीरीन मजरी और संसदीय मामलों के राज्यमंत्री अली मुहम्मद खान इस समिति के हिस्सा होंगे. समिति में सीनेट सदस्य अशोक कुमार भी शामिल है.

नेशनल असेंबली (National Assembly) सदस्य मलिक मुहम्मद अमिर डोगर, शुनिला रूथ, जय प्रकाश, लाल चंद, मुहम्मद असलम भूटानी, राणा तनवीर हुसैन, डॉ.दर्शन, केशोमल खीअल दास, शगुफ्ता जुमानी, रमेश लाल, नवीद अमिर जीवा और अब्दुल वासेय भी इस समिति के सदस्य हैं.

हिंदू लड़की के कथित अपहरण कर धर्मांतरण के बाद गठित की गई यह समिति
समिति अपनी पहली बैठक में संदर्भ बिंदु पर फैसला करेगी. हालांकि, बैठक की कोई तारीख अब तक तय नहीं की गई है.
Loading...

उल्लेखनीय है कि यह समिति सितंबर महीने में सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की (Hindu Girl) का कथित अपहरण कर धर्मांतरण करने की घटना के बाद गठित की गई है. इसके बाद हिंदू समुदाय ने जबरन धर्मांतरण के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया था.

इसके पहले भी हो चुका था एक सिख लड़की का अपहरण
पाकिस्तान (Pakistan) के लाहौर के ननकाना साहिब क्षेत्र (Nankana Sahib) से एक सिख लड़की (Sikh Girl) का बंदूक की नोक पर धर्म परिवर्तन और जबरन शादी कराने का मामला सामने आने के बाद अब  सिंध में एक हिंदू लड़की के अपहरण की खबर है. अगवा की गई लड़की का नाम रेनो बताया जा रहा है. बताया जाता है कि रेनो का अपहरण उस वक्त किया गया जब वह कॉलेज में पढ़ने जा रही थी. रेनो ग्रेजुएशन कर रही है.

लड़की के अपहरण की सूचना पाकिस्तानी हिंदुओं द्वारा गठित ‘ऑल पाकिस्तान हिंदू पंचायत’ ने सोशल मीडिया (Social Media) के जरिए दी है. ऑल पाकिस्तान हिंदू पंचायत की ओर से डाली गई पोस्ट के जवाब में एक पाकिस्तानी हिंदू महिला ने टिप्पणी की है कि अगवा रेना इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ के एक सदस्य मिर्जा दिलावर बेग के कब्जे में है.

यह भी पढ़ें: 2 फीट लंबे पाकिस्तानी को मिली 6 फीट की दुल्हन, शादी में डांस का वीडियो वायरल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 23, 2019, 9:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...