लाइव टीवी

पाकिस्‍तान ने भारत पर लगाया 'झूठा' आरोप, राजनयिक को तलब कर दी ये सलाह

News18Hindi
Updated: October 25, 2019, 6:16 PM IST
पाकिस्‍तान ने भारत पर लगाया 'झूठा' आरोप, राजनयिक को तलब कर दी ये सलाह
पाकिस्तान ने भारत पर संघर्ष विराम के उल्लंघन का आरोप लगाया है (सांकेतिक फोटो)

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) को विशेष दर्जा (Special Status) देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के ज्यादातर प्रावधानों को हटाये जाने और राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों (Union Territories) में बांटे जाने संबंधी भारत के फैसले के बाद भारत और पाकिस्तान (Pakistan) के बीच तनाव बढ़ गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2019, 6:16 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) ने एक बार फिर अपनी गलतियों का दोष भारत के सिर मढ़ना चाहा है. उसने भारत के उप उच्चायुक्त (Indian Deputy High Commissioner) गौरव अहलूवालिया (Gaurav Ahluwaliya) को शुक्रवार को तलब किया और नियंत्रण रेखा (LoC) पर ‘‘बिना उकसावे के संघर्ष विराम उल्लंघन’’ (Unprovoked Ceasefire Violations) की निंदा की.

महानिदेशक (दक्षिण एशिया और दक्षेस) मोहम्मद फैसल ने अहलूवालिया से कहा कि भारत के संघर्ष विराम (Ceasefire Violations) का उल्लंघन क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा (Regional Peace and Security) के लिए एक खतरा है.

पाकिस्तान का आरोप भारतीय गोलीबारी से गई तीन नागरिकों की जान
उन्होंने आरोप लगाया कि भारत ने ‘‘24 अक्टूबर को शाहकोट और खुईरट्टा सेक्टरों में बिना उकसावे के संघर्ष विराम का उल्लंघन किया और भारतीय सेना की बिना उकसावे के गोलीबारी (Shootout) के कारण तीन निर्दोष नागरिकों (Citizens) की मौत हो गई और एक घायल हो गया.’’

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) को विशेष दर्जा (Special Status) देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के ज्यादातर प्रावधानों को हटाये जाने और राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों (Union Territories) में बांटे जाने संबंधी भारत के फैसले के बाद भारत और पाकिस्तान (Pakistan) के बीच तनाव बढ़ गया है.

भारत ने पाकिस्तान से दोनों देशों के बीच 2003 के संघर्ष विराम समझौते (Ceasefire Agreement) का ‘‘सम्मान’’ करने का आग्रह किया है.

पाक पहले भी लगाता रहा है भारत पर संघर्ष विराम का झूठा आरोप
Loading...

इससे पहले भी पाकिस्तान ने भारतीय राजनयिक (Indian Envoy) को बुलाकर उनपर भारत के अकारण संघर्ष विराम का झूठा आरोप लगाया था. जबकि इससे पहले पाकिस्तान ने ही आतंकियों की तंगधार के इलाके में घुसपैठ कराने के लिए अकारण गोलीबारी की थी.

इस दौरान भारत ने भी पाकिस्तान (Pakistan) की गोलीबारी का जमकर जवाब दिया था. 20 अक्टूबर को हुई इस घटना के बारे में थलसेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने बताया था कि पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से अकारण की गई गोलीबारी के जवाब में रविवार को भारतीय सेना (Indian Army) ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (Pakistan Occupied Kashmir) की नीलम घाटी में चार आतंकी शिविरों और पाक सेना के कई ठिकानों को तोपों से निशाना बनाया जिसमें उनके छह से 10 सैनिक और इतनी ही संख्या में आतंकवादी मारे गए.

(भाषा के इनपुट सहित)

यह भी पढ़ें:

कश्मीर में 82वें दिन भी सामान्य जनजीवन प्रभावित, जामिया मस्जिद बंद रही

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 25, 2019, 5:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...