पाकिस्तान का आरोप- भारतीय गोलीबारी में एक लड़की की मौत, चार नागरिक घायल

पाकिस्तान का आरोप- भारतीय गोलीबारी में एक लड़की की मौत, चार नागरिक घायल
प्रतीकात्मक तस्वीर.

पाकिस्तान (Pakistan) ने संघर्षविराम उल्लंघन की घटना पर भारत के वरिष्ठ राजनयिक को तलब किया. साथ ही कहा कि भारतीय गोलीबारी (Firing) में एक लड़की की मौत और चार अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 13, 2020, 7:03 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) ने नियंत्रण रेखा (LOC) पर भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा संघर्ष विराम समझौते के कथित उल्लंघन पर अपना विरोध दर्ज कराने के लिए रविवार को भारतीय उच्चायोग के एक वरिष्ठ राजनयिक को तलब किया. विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा कि भारतीय सुरक्षा बलों ने शनिवार रात हॉटस्प्रिंग और राखचिकरी सेक्टरों में कथित तौर पर 'बिना किसी उकसावे के अंधाधुंध' गोलीबारी (Firing) की जिसके कारण एक लड़की की मौत हो गई और चार नागरिक गंभीर रूप से घायल हो गए. बयान में आरोप लगाया गया कि भारतीय बलों ने मोर्टार और स्वचालित हथियारों से गोलाबारी कर एलओसी और कामकाजी सीमा (WB) के पास की आबादी वाले इलाकों को निशाना बनाया. बयान में दावा किया गया कि इस साल संघर्ष विराम उल्लंघन की 2,225 घटनाओं में 18 लोगों की मौत हो गई और 176 लोग घायल हो गए. विदेश कार्यालय ने भारतीय पक्ष से 2003 के संघर्ष विराम समझौते का सम्मान करने, इस घटना की तथा और ऐसी ही अन्य घटनाओं की जांच कराने और एलओसी तथा कामकाजी सीमा पर शांति बनाए रखने को कहा.

वहीं, भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में जंग जैसे हालात के बीच पाकिस्‍तान 'टू फ्रंट वॉर' की तैयारी में जुट गया है. पाकिस्‍तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने बुधवार को अपने शीर्ष जनरलों के साथ रावलपिंडी स्थित सेना मुख्‍यालय में बैठक की. इस बैठक में जनरल बाजवा ने कहा कि पाकिस्‍तानी सेना रणनीतिक और क्षेत्रीय हालात को ध्‍यान में रखते हुए जंग की अपनी तैयारी के स्‍तर को बढ़ा दे. पाकिस्‍तानी सेना प्रमुख ने कहा, 'देश के हितों के खिलाफ पाकिस्‍तान विरोधी तत्‍वों के पांचवीं पीढ़ी के युद्ध कौशल और हाइब्रिड वॉरफेयर को देखते हुए सेना सरकार की नीतियों के साथ मिलकर देश की रक्षा करे.' पाकिस्‍तानी सेना प्रमुख ने आरोप लगाया कि भारत लगातार सीजफायर का उल्‍लंघन कर रहा है जो क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के लिए बड़ा खतरा है.

ये भी पढ़ें: भारत-चीन विवाद के बीच बोला पाकिस्तान- हमारी सेना देगी युद्ध का करारा जवाब



'हम हाइब्रिड का कर रहे सामना'
पिछले दिनों पाकिस्‍तान के डिफेंस डे और शहीद दिवस पर रावलपिंडी में आयोजित कार्यक्रम में जनरल बाजवा ने कहा था कि हम पांचवीं पीढ़ी या हाइब्रिड का सामना कर रहे हैं. इसका उद्देश्‍य पाकिस्‍तान और सेना को बदनाम करना तथा अव्‍यवस्‍था पैदा करना है. उन्‍होंने कहा, 'हम इस खतरे से वाकिफ हैं और देश की मदद से इस जंग को निश्चित रूप से जीतेंगे.' भारत का नाम लिए बिना बाजवा ने कहा कि अगर हमारे ऊपर युद्ध थोपा गया तो हम हर एक आक्रामक कार्रवाई का करारा जवाब देंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading