Home /News /world /

पाकिस्‍तान के रास्‍ते अफगानिस्‍तान पहुंचेगा भारत का गेहूं, इमरान सरकार ने खोला रास्‍ता

पाकिस्‍तान के रास्‍ते अफगानिस्‍तान पहुंचेगा भारत का गेहूं, इमरान सरकार ने खोला रास्‍ता

भारतीय गेहूं को अफगानिस्‍तान भेजने के लिए इमरान खान सरकार ने खोला रास्ता.  (फोटो-@ImranKhanPTI)

भारतीय गेहूं को अफगानिस्‍तान भेजने के लिए इमरान खान सरकार ने खोला रास्ता. (फोटो-@ImranKhanPTI)

पिछले महीने अफगानिस्‍तान (Afghanistan) को लेकर रूस में आयोजित हुए मॉस्‍को फॉर्मेट के दौरान भारत (India) ने तालिबान (Taliban) के नेताओं से मुलाकात की थी. बैठक में दौरान भारत ने अफगानिस्तान को तत्काल मानवीय मदददेने की पेशकश की थी. तालिबान शासन के आने के बाद अफगानिस्तान में ये भारत की तरफ से पहली मदद होगी. इससे पहले ईरान, यूएई और पाकिस्तान जैसे देशों ने अफगानिस्तान में रसद और मेडिकल सप्लाई भेजी हैं. संयुक्त राष्ट्र की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक अफगानिस्तान में करीब 4 करोड़ लोगों के सामने विकट खाद्य संकट पैदा हो सकता है जबकि करीब 90 लाख पहले से भुखमरी की कगार पर आ चुके हैं.

अधिक पढ़ें ...

    इस्लामाबाद. पाकिस्‍तान (Pakistan) की इमरान खान सरकार (Imran Khan Government) ने भारत (India) के गेहूं को अफगानिस्‍तान (Afghanistan) भेजने के लिए अपने सभी रास्‍ते खोल दिए हैं. पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कैबिनेट की बैठक के बाद सभी मंत्रालयों को सहायता देने का निर्देश दिया. पिछले महीने अफगानिस्‍तान को लेकर रूस में आयोजित हुए मॉस्‍को फॉर्मेट के दौरान भारत ने तालिबान के नेताओं से मुलाकात की थी. बैठक में दौरान भारत ने अफगानिस्तान को तत्काल मानवीय मदद देने की पेशकश की थी. तालिबान शासन के आने के बाद अफगानिस्तान में ये भारत की तरफ से पहली मदद होगी. इससे पहले ईरान, यूएई और पाकिस्तान जैसे देशों ने अफगानिस्तान में रसद और मेडिकल सप्लाई भेजी हैं. संयुक्त राष्ट्र की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक अफगानिस्तान में करीब 4 करोड़ लोगों के सामने विकट खाद्य संकट पैदा हो सकता है जबकि करीब 90 लाख पहले से भुखमरी की कगार पर आ चुके हैं.

    पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री इमरान खान ने अफगानिस्तान अंतर-मंत्रालयी समन्वय प्रकोष्ठ (एआईसीसी) की बैठक के दौरान सभी मंत्रालयों को अफगानिस्‍तान को ज्‍यादा से ज्‍यादा सुविधा देने का निर्देश दिया. उन्होंने 5 बिलियन रुपये की मानवीय सहायता के तत्काल शिपमेंट का आदेश दिया, जिसमें 50 हजार मीट्रिक टन गेहूं, आपातकालीन चिकित्सा आपूर्ति, शीतकालीन आश्रय और अन्य आपूर्ति सहित खाद्य वस्तुएं शामिल हैं. बैठक में विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, वित्त सलाहकार श्री शौकत फयाज तारिन, पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार डॉ मोईद यूसुफ और वरिष्ठ असैन्य और सैन्य अधिकारियों ने भाग लिया.

    Pakistan, Imran Khan, India, Afghanistan, Wheat, Taliban,

    बता दें कि पिछले महीने भारत ने मानवीय सहायता के रूप में अफगानिस्‍तान को 50 हजार मीट्रिक टन गेहूं भेजने का अनुरोध किया था. भारत ने पाकिस्‍तान से वाघा बॉर्डर के जरिए भारतीय गेहूं को भेजने का अनुरोध किया था. अफगानिस्तान के कार्यवाहक विदेश मंत्री आमिर अहमद मुत्तकी ने पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री इमरान खान से भारत को पाकिस्तान के रास्ते गेहूं भेजने की अनुमति देने का अनुरोध किया था. उन्होंने कहा था कि तालिबान सरकार भारत से मानवीय मदद लेने के लिये तैयार है.

    इसे भी पढ़ें :- Exclusive: पाकिस्तान में सरकार और सेना के बीच तकरार तेज, इमरान खान की PM पद से छुट्टी तय

    हाल में आई विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट
    हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि युद्धग्रस्त अफगानिस्तान में लाखों की संख्या में बच्चे इस साल के अंत तक भूख से मर सकते हैं. तालिबान शासन आने के बाद अफगानिस्तान के बदतर होते हालात पर WHO के बयान ने दुनिया ध्यान फिर से आकर्षित किया है. संगठन ने कहा है कि सर्दी के मौसम में अफगानिस्तान में तापमान कम होगा और भूख से बिलखते बच्चे जान गंवा सकते हैं.

    इसे भी पढ़ें :- TTP ने इमरान सरकार से मांगी तीसरे देश में ऑफिस खोलने की मंजूरी, खटाई में पड़ी बातचीत

    भूख से मर सकते हैं बच्चे
    समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक WHO ने कहा कि करीब 32 लाख अफगानी बच्चे साल के अंत तक विकट कुपोषण के शिकार होंगे. इनमें से करीब दस लाख बच्चों पर मौत का खतरा बुरी तरह मंडरा रहा है. संगठन की प्रवक्ता मार्गरेट हैरिस ने कहा कि देश में फैलते संकट के बीच ये एक बड़ी लड़ाई होगी.

    Tags: Afghanistan, Imran khan, India pakistan, Pakistan, Taliban, Wheat

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर