Home /News /world /

चीन की धमकियों से डर गए इमरान खान, चीनी इंजीनियरों को देना होगा अरबों रुपये का मुआवजा

चीन की धमकियों से डर गए इमरान खान, चीनी इंजीनियरों को देना होगा अरबों रुपये का मुआवजा

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (AP)

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (AP)

China-Pakistan Relation: इमरान सरकार 4 तरीके का मुआवजा देने जा रही है, जिसमें 81 करोड़ रुपये से लेकर 3.6 अरब रुपये तक का मुआवजा शामिल है. इस पूरे मामले में महत्‍वपूर्ण बात यह है कि पाकिस्‍तान कानूनी रूप से या समझौते की शर्त के रूप में मुआवजा देने के लिए बाध्‍य नहीं था. इसके बाद भी इमरान खान सरकार चीनी धमकी के आगे झुक गई और अब अरबों रुपये मुआवजा देगी.

अधिक पढ़ें ...

    इस्‍लामाबाद. पाकिस्‍तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) चीन की धमकी से डर गए हैं. इमरान खान अब दासू पनबिजली परियोजना पर हुए आतंकी हमले में हताहत हुए चीनी नागरिकों को अरबों रुपये का मुआवजा देने जा रहे हैं. पाकिस्‍तान सरकार 36 चीनी नागरिकों को मुआवजा देगी, जिसमें से 10 की आत्‍मघाती हमले में मौत हो गई थी. वहीं, 26 अन्‍य घायल हो गए थे. कंगाली की हालत से गुजर रहे पाकिस्‍तान के मुआवजा देने में आनाकानी करने से चीन ने काम बंद करने की धमकी दी थी.

    एक्‍सप्रेस ट्रिब्‍यून की रिपोर्ट के मुताबिक, इस मुआवजे को लेकर चीन और पाकिस्‍तान के बीच राजनयिक तनाव पैदा हो गया था. इमरान सरकार 4 तरीके का मुआवजा देने जा रही है, जिसमें 81 करोड़ रुपये से लेकर 3.6 अरब रुपये तक का मुआवजा शामिल है. इस पूरे मामले में महत्‍वपूर्ण बात यह है कि पाकिस्‍तान कानूनी रूप से या समझौते की शर्त के रूप में मुआवजा देने के लिए बाध्‍य नहीं था. इसके बाद भी इमरान खान सरकार चीनी धमकी के आगे झुक गई और अब अरबों रुपये मुआवजा देगी.

    मुश्किल में इमरान खान की पार्टी, 150 जनप्रतिनिधियों की सदस्यता रद्द

    चीनी ठेकेदार ने दासू प्रॉजेक्‍ट पर काम भी बंद कर दिया
    डासू प्रॉजेक्‍ट के लिए विश्‍व बैंक पैसा दे रहा है और यह चाइना पाकिस्‍तान इकनॉमिक कॉरिडोर में भी नहीं आता है. इस हमले में 4 पाकिस्‍तानी नागरिक भी मारे गए थे. इमरान खान सरकार ने अंतरराष्‍ट्रीय बेइज्‍जती से बचने के लिए पहले इस घटना को गैस लीकेज करार दिया था, जिससे चीन भड़क गया था. उसने सीपीईसी की बैठक को रद्द कर दिया था.

    चीनी ठेकेदार ने दासू प्रॉजेक्‍ट पर काम भी बंद कर दिया था. इसके बाद इमरान सरकार ने माना कि यह आतंकी हमला है. चीनी कंपनी ने मुआवजे के रूप में 3.7 करोड़ डॉलर की भारी भरकम राशि की मांग की थी.

    एंटी एयरक्राफ्ट गन, रिवॉल्वर और लाखों गोलियां… जमीन में दफन मिला हथियारों का जखीरा

    बता दें कि चीन की सीपीईसी परियोजना लगातार पाकिस्‍तान में झटके खा रही है. एक तरफ जहां काम की रफ्तार धीमी हुई है, वहीं नए प्रॉजेक्‍ट की मंजूरी भी दोनों तरफ से ठप हो गई है.

    Tags: China, China Army, China attack india, India pakistan, Xi jinping

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर