पाक ने UNHRC में कश्‍मीर का दुखड़ा रोया, फिर भी नहीं मिला किसी देश का साथ

कर्ज में डूबे पाकिस्तान के लिए स्टॉक मार्केट से आई बुरी खबर

स्विट्जरलैंड के जिनेवा में 24 फरवरी से 20 मार्च तक आयोजित होने वाले मानवाधिकार परिषद के 43 वें सत्र (UNHRC) में पाकिस्तान (Pakistan) की मानवाधिकार मंत्री शिरीन माजरी ने भारत पर कश्मीरी लोगों के मानवाधिकारों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया.

  • Share this:
    जिनेवा. पाकिस्तान ने मंगलवार को यहां संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद/यूएनएचआरसी (UNHRC) में कश्मीर मुद्दे को फिर से उठाया और घाटी में संचार प्रतिबंधों को तत्काल हटाने और सभी राजनीतिक नेताओं और कार्यकर्ताओं को रिहा करने की मांग की. पाकिस्तान ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय की चुप्पी से भारत के हौंसले बुलंद होंगे.

    पाक ने भारत पर लगाया मानवाधिकार उल्‍लंघन का आरोप
    स्विट्जरलैंड के जिनेवा में 24 फरवरी से 20 मार्च तक आयोजित होने वाले मानवाधिकार परिषद के 43 वें सत्र में पाकिस्तान की मानवाधिकार मंत्री शिरीन माजरी ने भारत पर कश्मीरी लोगों के मानवाधिकारों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया और कश्मीर में पिछले साल 5 अगस्त को भारत द्वारा उठाए गए सभी कदमों को तत्काल वापस लेने की मांग की.

    भारत लगातार कह रहा- अनुच्‍छेद 370 आंतरिक मामला
    गौरतलब है कि भारत ने पिछले साल पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत मिले विशेष राज्य के दर्जे को रद्द कर दिया था और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था. पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिश करता रहा है, लेकिन भारत ने लगातार कहा है कि अनुच्छेद 370 को निरस्त करना उसका 'आंतरिक मामला' है. भारत ने पाकिस्तान को वास्तविकता स्वीकार करने और भारत विरोधी बयानबाजी को रोकने के लिए कहा है.

    माजारी ने आरोप लगाया कि छह हजार से अधिक कश्मीरी लोग, कार्यकर्ता... कानून की उचित प्रक्रिया के बिना गिरफ्तार किए गए हैं. उन्होंने उनकी तत्काल रिहाई की मांग की. अपने कट्टर भारत-विरोधी रुख के लिए जानी जाने वाली मंत्री ने कहा कि इस मामले में अंतरराष्ट्रीय समुदाय और परिषद की कोई भी निष्क्रियता भारत को केवल प्रोत्साहित ही करेगा.

    पाकिस्तान ने अग्रिम चौकियों, रिहायशी इलाकों को निशाना बनाया
    इससे पहले मंगलवार सुबह पाकिस्तान ने संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए जम्मू कश्मीर में पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के निकट अग्रिम चौकियों और नागरिक क्षेत्रों पर मोर्टार के गोले दागे और छोटे हथियारों से गोलियां चलाईं. अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने किरनी, कस्बा और शाहपुरा को निशाना बनाया. गोलीबारी और गोलाबारी से सीमाई इलाकों में भय व्याप्त हो गया है.

    पिछले शुक्रवार को भी नियंत्रण रेखा के निकट पाकिस्तानी गोलाबारी में कम से कम सात रिहायशी इमारत छतिग्रस्त हो गई थीं. उन्होंने बताया कि भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई की. गौरतलब है कि पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने रविवार को कहा था कि जम्मू कश्मीर में सशस्त्र आतंकवादियों को घुसाने और शांति भंग करने के लिए संघर्षविराम उल्लंघन में कई गुना वृद्धि हुई है.

    ये भी पढ़ें: सऊदी अरब पाकिस्‍तान के साथ डबल गेम खेल रहा : ऑस्‍ट्रेलियाई कॉ‍लमनिस्‍ट

    ये भी पढ़ें: जानिए, डोनाल्‍ड ट्रंप के भारत दौरे पर क्या कह रही है विदेशी मीडिया

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.