होम /न्यूज /दुनिया /VIDEO: कराची ब्लास्ट में महिला सुसाइड बॉम्बर का था हाथ, गाड़ी नजदीक आते ही खुद को उड़ाया

VIDEO: कराची ब्लास्ट में महिला सुसाइड बॉम्बर का था हाथ, गाड़ी नजदीक आते ही खुद को उड़ाया

आत्‍मघाती महिला हमलावर की पहचान शैरी बलूच के रूप में हुई है. ( फोटो Twitter)

आत्‍मघाती महिला हमलावर की पहचान शैरी बलूच के रूप में हुई है. ( फोटो Twitter)

कराची (Karachi) यूनिवर्सिटी के अंदर मंगलवार दोपहर हुए ब्‍लास्‍ट का नया वीडियो सामने आया है. इस धमाके में 3 चीनी नागरिको ...अधिक पढ़ें

कराची. कराची (Karachi) यूनिवर्सिटी के अंदर मंगलवार दोपहर हुए ब्‍लास्‍ट का नया वीडियो सामने आया है. इसमें बुर्का पहनी महिला दिखाई दे रही है. वह सड़क के एक किनारे पर खड़ी हुई दिखाई देती है और उसके पीछे वैन आती दिखाई दे रही है. जैसे ही वैन उस महिला के पास आती है, जोरदार धमाका हो जाता है. इस धमाके में 3 चीनी नागरिकों (Chinese National) सहित चार लोगों की मौत हो गई. इस हमले की जिम्‍मेदारी बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी (बीएलए) ने ली है. बीएलए ने कहा कि हमला एक महिला आत्मघाती हमलावर (Suicide bomber) ने किया था. बीएलए, उग्रवादी समूह है जो मुख्य रूप से बलूचिस्तान प्रांत में सक्रिय है. वह पहले भी चीनी नागरिकों और हितों को निशाना बना चुका है.

पाकिस्‍तानी मीडिया की खबरों के अनुसार, दक्षिणी पाकिस्तानी बंदरगाह शहर में कराची विश्वविद्यालय परिसर के अंदर हुए इस हमले के बाद बीएलए ने बयान में कहा कि यह शैरी बलूच या ब्रम्श थी, जो समूह की पहली महिला हमलावर थी. यह हमला बलूच प्रतिरोध के इतिहास में एक नया अध्याय है. बलूचिस्तान लंबे समय से सशस्त्र बलूच समूहों द्वारा उग्रवाद को जारी रखे हुए है. यहां छोटी-छोटी घटनाएं ही होती रही हैं. वह पाकिस्‍तान से आजादी की मांग करता रहा है. वह अधिक स्वायत्तता और इस इलाके में प्राकृतिक संसाधनों पर अधिक हिस्‍सेदारी की मांग दोहराता रहा है. दरअसल इस कराची हमले से पहले भी जुलाई 2021 में उत्तर-पश्चिम के दसू में एक बस में बमबारी की गई थी. यह पाकिस्‍तान में चीनी नागरिकों पर पहला बड़ा हमला था, जिसमें नौ चीनी नागरिक मारे गए थे. हालांकि उस समय बलूच संगठन ने इस घटना की जिम्‍मेदारी नहीं ली थी. उस समय पाकिस्तानी तालिबान – जिसे तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के नाम से भी जाना जाता है – ने हमले की जिम्मेदारी ली थी. उस हमले में चार पाकिस्तानी भी मारे गए थे.

इधर, कराची में पुलिस प्रमुख गुलाम नबी मेमन ने कहा कि शुरुआती जांच से पता चलता है कि हमले के पीछे एक आत्मघाती हमलावर का हाथ था. उन्‍होंने कहा कि सीसीटीवी फुटेज से यह साफ हो गया है कि धमाका करने वाली एक महिला थी, उसने खुद को उड़ा दिया. पाकिस्‍तान के कई हिस्‍सों में चीनी नागरिक रह रहे हैं. वे यहां निर्माण कार्यों से जुड़े हुए हैं तो कुछ अन्‍य प्रोजेक्‍ट में काम कर रहे हैं. यूनिवर्सिटी के अंदर भी चीनी भाषा सिखाने वाले चीनी-निर्मित कन्फ्यूशियस संस्थान में पढ़ाने के लिए चीन के नागरिक आते थे. इस धमाके में जिन तीन चीनी नागरिकों की मौत हुई है उनमें दो टीचर और एक संस्थान में निदेशक थे. चीन की बहु अरब डॉलर की परियोजना के अंतर्गत बन रहे कई निर्माणों में हजारों चीनी श्रमिक पाकिस्तान में रह रहे हैं और काम कर रहे हैं. यह प्रोजेक्‍ट ‘वन बेल्ट वन रोड प्रोजेक्ट’ के रूप में जाना जाता है, जो दक्षिण और मध्य एशिया को चीनी राजधानी से जोड़ने के लिए बनाया जा रहा है. दक्षिण-पश्चिमी बलूचिस्तान प्रांत में पाकिस्तान के दक्षिणी बंदरगाह ग्वादर को चीन के उत्तर-पश्चिमी शिनजियांग प्रांत से जोड़ने वाली एक प्रमुख सड़क, चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे के रूप में जानी जाने वाली सड़क का हिस्सा है. इस परियोजना में कई बुनियादी ढांचा परियोजनाएं और कई बिजली परियोजनाएं शामिल हैं.

Tags: Chinese National, Karachi, Suicide bomber

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें